सीएनजी तीन रुपए हुई सस्ती हो गई है। सीएनजी अब 59.50 रुपए प्रति किलो मिलेगी। अभी तक सीएनजी 62.50 रुपए प्रति किलो मिल रही थी। घरेलू पीएनजी में भी 50 पैसे प्रति यूनिट की कमी आई है। पीएनजी अब 29.50 प्रति यूनिट मिलेगी। नई दरें शनिवार सुबह छह बजे से लागू हो गई।

बीते नौ माह में सीएनजी की कीमतों में दूसरी बार कटौती हुई है। ग्रीन गैस के मुख्य प्रबंधक (विपणन) सुर्य प्रकाश गुप्ता ने बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा गैस के मूल्यों में कमी किए जाने के कारण सीएनजी व पीएनजी के दामों में कमी आई है। सीएनजी व पीएनजी के दामों में यह बदलाव लखनऊ समेत आगरा व उन्नाव में भी लागू होंगे।

हर 6 महीने पर ​तय होते हैं दाम
गौरतलब है कि नेचुरल गैस के दाम हर साल एक अप्रैल और एक अक्टूबर को तय किए जाते हैं। 1 अप्रैल को कीमत की समीक्षा के बाद ये कटौती का ऐलान किया गया है। नेचुरल गैस का इस्तेमाल उर्वरक और बिजली उत्पादन में किया जाता है।

6 माह में दूसरी बार हुई कटौती
दरअसल, केंद्र सरकार ने देश में उत्पादित प्राकृतिक गैस के बिक्री मूल्य में मंगलवार को 26 फीसदी की बड़ी कटौती की थी और इस तरह 2014 में घरेलू गैस का मूल्य निर्धारण फॉर्मूला आधारित बनाए जाने के बाद दाम सबसे निम्न स्तर पर आ गए। बता दें कि वर्ष 2014 में सत्ता में आने के बाद नरेंद्र मोदी सरकार ने नवंबर में नेचुरल गैस की कीमतों के निर्धारण के लिए एक फॉर्मूला तय किया था। पिछले छह माह में नेचुरल गैस की कीमतों में दूसरी बार कमी की गई है। इससे पहले एक अक्टूबर, 2019 को नेचुरल गैस की कीमतों में 12.5 फीसद की कमी की गई थी। नेचुरल गैस का इस्तेमाल उर्वरकों के उत्पादन और बिजली बनाने के लिए किया जाता है। इस गैस को सीएनजी एवं पीएनजी में कंवर्ट किया जाता है, जिनका इस्तेमाल वाहनों में ईंधन और घरों में कुकिंग गैस के रूप में होता है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.