दिल्ली के निजामुद्दीन के मरकज से लौटकर उत्तर प्रदेश आए तबलीगी जमात के लोगों की जांच में गुरुवार को विभिन्न जिलों में 11 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इनमें मेरठ में चार, फिरोजाबाद में चार, जौनपुर में दो और गाजीपुर में एक व्यक्ति संक्रमित मिला है। इसकी पुष्टि के बाद से हड़कंप मचा है।

फिरोजाबाद कार्यालय के मुताबिक वहां मरकज से आए बिहार के सात जमातियों में से चार की सैफई से आई जांच रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि हुई है। इन्हें शिकोहाबाद के वार्ड में आइसोलेट किया था। अब बाकी तीन को अलग वार्ड में आईसोलेट किया है। चारों के ब्लड सैंपल को अब  लखनऊ के केजीएमयू भेजा गया है।

मेरठ में कोरोना वायरस की आशंका में लिए गए 76 सैंपल की जांच में पांच लोगों की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। इनमें चार जमाती और एक बच्ची है। वहीं विभिन्न प्रदेशों और विदेश से आए सात सौ से अधिक लोगों को होम कवारंटीन किया गया है। इस तरह मेरठ जिले में कोरोना पॉजीटिव की संख्या 25 हो गई है।

डीएम अनिल ढींगरा ने बताया कि मेडिकल कालेज की लैब में गुरुवार को कुल 76 सैंपल की जांच की गई। कोरोना संक्रमित रोगियों के संपर्क के लोगों की जांच-पड़ताल के लिए 40 टीमों को लगाया गया है ताकि जल्द से जल्द उनके संपर्क के लोगों को खोजा जा सके। जौनपुर में दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से लौटे 14 बंगलादेशियों समेत 16 लोगों में से दो कोरोना पाजिटिव निकले। 31 मार्च से क्वारंटीन इन लोगों का बुधवार को सैंपल लिया गया था।

सीएमओ रामजी पांडेय ने बताया कि गुरुवार शाम बीएचयू से दो लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें एक बंगलादेशी है जबिक दूसरा रांची का रहने वाला एक गाइड है। इसी तरह गाजीपुर पहुंचे देहरादून निवासी एक मौलाना की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मौलाना समेत 11 लोगों को मंगलवार को एक मस्जिद से पकड़ने के बाद अस्पताल में जांच कराई गई थी। इनमें दो लोगों की तबीयत खराब होने पर सैंपल बीएचयू भेजा गया था। इनमें एक की रिपोर्ट पॉजिटिव और एक की निगेटिव आई है

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.