कोरोना के खतरे से निपटने के लिए प्रधानमंत्री ने देश की जनता से दान देने की अपील की थी। इसके लिए प्राइम मिनिस्टर सिटीजन असिस्टेंस एंड रिलीफ इन इमरजेंसी सिचुएशन फंड (पीएम केयर्स फंड) बनाया गया है। इसके बाद देश के लिए दान देने वालों की होड़ मच गई। मगर कुछ शातिर लोग इस मौके का भी फायदा उठाना चाहते हैं। प्रधानमंत्री केयर्स फंड के नाम पर दो फर्जी वेबसाइट बना दी गई हैं। इसे लेकर सरकार ने चेतावनी जारी की है।

ऐसे करें पहचान
दिल्ली पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव ने बताया कि प्रधानमंत्री राहत कोष के लिए जो UPIID है वो [email protected] है, यानी कि पीएमकेयर्स@एसबीआई जबकि फर्जी अकाउंट [email protected] यानी पीएमकेयर@एसबीआई है। दोनों आईडी में सिर्फ एस का फर्क है। इसके अलावा एक और यूपीआई की शिकायत की गई है, जो [email protected] के नाम से है। स्टेट बैंक ने बयान जारी कर कहा कि उनकी टीम इसकी जांच कर रही है।

सतकर्ता बरतें
सरकार की ओर से पीआईबी ने ट्वीट कर बताया कि प्रधानमंत्री केयर्स फंड में दान करने के लिए असली यूपीआई आईडी है- [email protected] है। इसके अलावा अगर आपके पास कोई लिंक या संदेश आता है, जिसमें यह आईडी नहीं है तो उसमें बिल्कुल दान न करें। वह प्रधानमंत्री फंड के नाम पर आपको ठगने की कोशिश हो सकती है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.