कोरोना के कहर के चलते विश्व का एक तिहाई हिस्सा लॉकडाउन है। भारत में भी पूरी तरह लॉकडाउन के तीन दिन हो चुके है। इस बीच दिल्ली से अपने घरों के लिए पैदल ही निकल पड़े मजदूरों को पुलिस ने यूपी गेट पर रोक दिया है।

कोरोना वायरस से निपटने के लिए देश में 21 दिनों का लॉकडाउन जारी है। पीएम मोदी ने 24 मार्च की रात लॉकडाउन की घोषणा करते हुए लोगों से घर से बाहर नहीं निकलने को कहा था। उन्होंने कहा कि यह लॉकडाउन कर्फ्यू जैसा ही होगा। हालांकि, जरूरी सेवाओं की चीजें पहले की तरह ही चलती रहेंगी। इसको लेकर गृहमंत्रालय ने छह पन्नों वाली गाइडलाइन भी जारी की है। पिछले साल के अंत में चीन से शुरू हुआ कोरोना वायरस का संक्रमण पूरी दुनिया में फैल चुका है। कोरोना के सबसे अधिक पॉजिटिव केसों के मामलों में अमेरिका पहले स्थान पर पहुंच गया है। हालांकि लॉकडाउन के बावजूद बीते 24 घंटों में कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ संक्रमण के 75 नए मामले सामने आए हैं और कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 800 से ऊपर हो गई है तथा इससे चार मरीजों की मौत हुई हैं। कोरोना वायरस का प्रकोप देश के 27 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में फैल चुका है। कोरोना वायरस के संक्रमण से देश भर में अब तक 19 लोगों की मौत हुई है। केरल, महाराष्ट्र, कनार्टक, तेलंगाना, गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में अभी तक सबसे अधिक संक्रमण के मामले सामने आए हैं।
दिल्ली से अपने घरों के लिए पैदल ही निकल पड़े मजदूरों को पुलिस ने यूपी गेट पर रोक दिया है।
यातायात बंद किए जाने के बाद भी लोगों का पलायन नहीं थम रहा है। दिल्ली, गुरुग्राम और अन्य स्थानों से पैदल चलने के बाद बड़ी संख्या में लोग लाल कुआँ पहुंचे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.