लखनऊ। सैकड़ों लोगों को संकट में डालने वाली कोरोना वायरस से पीड़ित बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर के खिलाफ लखनऊ के डीएम अभिषेक प्रकाश ने एफआईआर दर्ज करने के लिए कहा। डीएम के निर्देश के बाद बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर के खिलाफ सरोजनीनगर थाना पर आईपीसी की धारा 188, 269, 270 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। कनिका की घोर लापरवाही के कारण लखनऊ में बड़ी आबादी संकट में है। विदेश से वापसी के बाद वह सरकार की एडवाइजरी दरकिनार कर बेरोकटोक पार्टियां करती रहीं। उनके जश्न में अफसरों से लेकर राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे समेत बड़े नेताओं का जमावड़ा हुआ। इस मामले में प्रमुख सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने कनिका कपूर की सभी पार्टियों की जांच का आदेश दिया है। उन्होंने डीएम अभिषेक प्रकाश से 24 घंटे में जांच रिपोर्ट मांगी है।
शुक्रवार सुबह बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर की किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) में जांच के बाद वायरस की पुष्टि होने पर लखनऊ से लेकर दिल्ली तक खलबली मच गई। संपर्क में आए कई मंत्री, अफसर खुद ही घरों में क्वांरटाइन हो गए। हालात में 31 मार्च तक लॉकडाउन जैसी स्थिति घोषित कर दी गई है। दरअसल, कनिका कपूर लंदन गई थीं। वह 11 मार्च को लखनऊ लौटी थीं। विदेश से आने के बावजूद सरकार की तय एडवाइजरी को दरकिनार कर दिया।
वह करीब 10 दिन तक होम क्वारंटाइन का पालन के बजाए वह शहर में पार्टियां करती रहीं। इसमें कई राज्यों के सांसद, विधायक, मंत्री, अफसर समेत समेत हाई प्रोफाइल लोग जुटे। यही नहीं लखनऊ, कानपुर समेत दूसरे शहरों में भी भ्रमण किया। ऐसे में बड़ी आबादी में संक्रमण फैलने की आशंका है। केजीएमयू में शुक्रवार को कनिका में कोरोना कोविड-19 वायरस की पुष्टि हुई। सुबह जांच में पुष्टि होते ही लखनऊ समेत दिल्ली तक हड़कंप मच गया। कारण, पार्टी में शामिल हुए कई जनप्रतिनिधि सदन में भी भाग लेने पहुंचे थे। कनिका कपूर को लखनऊ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया और उनके माता-पिता को घर में ही क्वारंटाइन किया गया है।
पार्टियों में ये लोग हुए शामिल
राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे, उनके सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह, उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप  सिंह, सांसद अनुप्रिया पटेल, कांग्रेस के पूर्व सांसद जितिन प्रसाद, पूर्व सांसद अकबर अहमद डंपी, विधायक रघुराज प्रताप सिंह, डीजी फायर जावीद अहमद।
लखनऊ में कहां-कहां हुई पार्टिंयां
पूर्व बसपा सांसद अकबर अहमद डंपी के डालीबाग स्थित घर में 13 व 14 को पार्टी हुई। बगल में ही पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद के ससुर आदेश सेठ का घर है। यहां 15 मार्च को पार्टी की। इसके साथ ही लोकायुक्त संजय मिश्र के यहां भी पार्टी का आयोजन हुआ, जिसमें कनिका पहुंचीं।
चार दिन से आ रहा था बुखार
कनिका को पिछले चार दिन से बुखार-जुकाम था। बुधवार हो उन्होंने सीएमओ समेत अन्य अधिकारियों को फोन पर तबियत बिगड़ने की सूचना दी। गुरुवार शाम को उनके डंडईया स्थित फ्लैट में हेल्थ टीम पहुंची। यहां उनका सैंपल कलेक्शन कर केजीएमयू जांच के लिए भेजा गया। सुबह नौ बजे संस्थान के प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह ने सिंगर में वायरस की पुष्टि की।
आइसोलेशन के लिए घंटों मशक्कत
नौ बजे कनिका में वायरस की पुष्टि के बाद घंटों अफसरों की मशक्कत चलती रही। मीडिया में मामला तूल पकड़ गया। इसके बाद 12 बजे के करीब एंबुलेंस उनके फ्लैट पर पहुंची। यहां से उन्हें एंबुलेंस से पीजीआइ भेजा गया। जहां कोरोना आइसोलेशन वार्ड में पौने दो बजे भर्ती कराया गया।
पिता ने कहा तीन पार्टियों में गईं कनिका
कनिका कपूर के पिता के अनुसार लंदन से आने के बाद कनिका तीन पार्टियों में जा चुकी हैं। इस दौरान वह करीब 400 लोगों से मिलीं। कनिका पूर्व सांसद अकबर अहमद डम्पी के यहां पार्टी में शामिल हुई थीं, जिसमें भाजपा के कई बड़े नेता, मंत्री व अधिकारी शामिल हुए थे। वह एक बड़े कारोबारी के घर आयोजित पार्टी में भी गई थीं। होटल ताज में भी एक कैबिनेट मंत्री और कई आईएएस अफसर शामिल हुए थे। दोनों ही पार्टियों में कैटरिंग स्टाफ व होटल स्टाफ को हटाकर 500-700 लोग शामिल हुए। कनिका ने कई लोगों के साथ सेल्फी खिंचवाई और हैंडशेक किया।
कनिका कपूर ने सभी खबरों का किया खंडन
पीजीआइ में भर्ती कनिका ने एक टीवी चैनल से बातचीत में उन सभी खबरों का खंडन किया है जिसमें यह कहा जा रहा है कि वह एयरपोर्ट से छुपकर भागी थी और वह दो से तीन पार्टियों में गई जहां उनके संपर्क में तीन से 400 लोग आएं हैं। कनिका ने दावा किया जा रहा है कि उन्होंने लखनऊ एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग कराई थी उस दौरान उनमें कोरोना वायरस के लक्षण नहीं पाए गए थे, लेकिन उनकी गलती यह रही कि विदेश से लौटने के बाद भी उन्होंने खुद को एकांतवास में नहीं रखा और सार्वजनिक पार्टियों में शामिल होती रहीं। वहीं आइसोलेशन वार्ड में पानी तक न मिलने की बात कही। साथ ही दावा किया कि हेल्थ टीम ने उन्हें एफआईआर की धमकी दी है।
मैं और मेरा पूरा परिवार आइसोलेशन में है : जय प्रताप सिंह
बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर जिन पार्टियों में गई थीं उनमें से एक में यूपी के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह भी शामिल हुए थे। इस खबर के बाद सरकार में हड़कंप की स्थिति बन गई। इस संबंध में स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने बताया कि वह लखनऊ में उस पार्टी में गए थे, जिसमें बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर मौजूद थी। उन्होंने उससे मुलाकात भी की थी। उनके साथ उनका परिवार भी मौजूद था। ऐसे में अब उन्होंने खुद को और अपने पूरे परिवार को आइसोलेशन में रखने का फैसला किया है।
पूरे एरिया में बैरीकेडिंग, आक्रोश
कनिका कूपर में वायरस की पुष्टि होने पर डंडईया स्थित कॉलोनी में हड़कंप मच गया। टॉवर से निकलकर लोग बाहर आ गए। अफसरों से संक्रमण से बचाव की गुहार लगाई। साथ ही गायिका की लापरवाही पर भी आक्रोश व्यक्त किया। ऐसे में अधिकारियों ने पूरे क्षेत्र में बैरिकेडिंग कर ब्लॉक कर दिया। सिंगर कनिका के आवास के आस-पास एक किमी दायरे में स्क्रीनिंग होगी। घर-घर हेल्थ टीम दस्तक देगी। सभी से सर्दी-जुकाम, बुखार की हिस्ट्री लेगी। साथ ही 14 दिन तक मॉनिटिरिंग करेंगी। ऐसे में महानगर में भी कोरोना पॉजिटिव परिवार के आस-पास स्क्रीनिंग होगी।
संपर्क में आए सैकड़ों लोग, 45 की सैंपलिंग
कनिका कपूर के पिता ने तीन पार्टियों में शामिल होने का दावा किया। ऐसे में सैकड़ों लोगों के संपर्क में आने की आशंका है। संक्रमण फैलने के भय से सीएमओ की टीम ने लोगों को ट्रेस करना शुरू कर दिया है। परिवारजन में पिता समेत तीन लोगों के सैंपल संग्रह किए गए। वहीं शाम तक कुल 45 लोगों के सैंपल लिए गए। अभी सैंपल संग्रह का काम जारी है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.