कानपुर ब्रेकिंग
ग्वालटोली थाना अंतर्गत 6 बंगलिया रोड पर राकेश सूरी के बंगले पर संदिग्ध अवस्था में गार्ड की हुई मौत सुबह जब घर वालों का फोन नहीं उठा तो घरवाले पहुंचे बंगले जहां अरुण प्रसाद त्रिपाठी गार्ड को मृत पाया मौके पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा कर सबको भेजा पोस्टमार्टम आगे की कार्यवाही में जुटी।।

ग्वालटोली में सूरी जूता कम्पनी के मालिक के बंगले में तैनात सुरक्षा गार्ड की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। जानकारी होते ही परिजनों में कोहराम मच गया म्रतक की गुरुवार को हाई स्कूल की बोर्ड परीक्षा में ड्यूटी में लगी थी। बेटा जब पिता को घर लेने बंगले से लेने गया तब घटना की जानकारी हुई। वही सूचना पर पहुँची पुलिस ने घटना की जाँच पड़ताल कर शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। कैंट निवासी आशीष त्रिपाठी प्राइवेट कम्पनी में काम करते है। आशीष ने बताया कि परिवार में बाबा दिग्विजय त्रिपाठी पिता अरुण प्रसाद त्रिपाठी(45) छोटा भाई मनीष त्रिपाठी बहन साक्षी त्रिपाठी है पिता सूरी कम्पनी के मालिक के बंगले में सुरक्षा गार्ड थे। इसके साथ पिता अंग्रेज़ी सब्जेक्ट के आध्यपक भी थे । पिता वर्तनमान में चल रही दसवीं कक्षा के बोर्ड एग्जाम की ड्यूटी भी कर रहे थे। गुरुवार को पिता की माल रोड पर बने एबी स्कूल में ड्यूटी थी। बुधवार को भी पिता रोज़ की तरह बंगले पर ड्यूटी जाने की बात कहकर घर से निकले थे। सुबह जब वह पिता को लेने के लिए बगले पर गया था। काफी देर तक बेटा गेट खतकाता रहा लेकिन अंदर से कोई आवाज नही आई । इसी बीच दिन में ड्यूटी करने वाला गार्ड सन्तोष कुमार शुक्ला भी आ गया वह भी आवाज लगाता रहा और फोन मिलाता रहा लेकिन अंदर से कोई आवाज नही आई । जिसके बाद गार्ड गेट से चढ़कर अंदर गया और गार्ड रूम का दरवाजा खोलकर कमरे में गया तो अंदर गार्ड का शव पड़ा देख उसके होश उड़ गये। वही गार्ड ने घटना की जानकारी पुलिस और मालिक को दी।जानकारी पर पहुँची पुलिस ने घटना की जाँच पड़ताल कर शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। वही बेटे आशीष का आरोप है कि पिता की गर्दन मफलर से कसी थी। जिसे देखने से ऐसा प्रतीत हो रहा था बुजुर्ग की हत्या की गई है।

रिपोर्ट – जय चौधरी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.