दिल्ली– केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने गुरुवार को कहा कि रसोई गैस (एलपीजी) की कीमतों में अगले महीने कमी आ सकती है। प्रधान दो दिन के छत्तीसगढ़ के दौरे पर हैं। इस्पात तथा पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने यहां स्वामी विवेकानंद हवाई अड्डे पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

एलपीजी की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोत्तरी से संबंधित संवाददाताओं के सवाल का जवाब देते हुए मंत्री ने कहा, ‘यह सही नहीं है कि कीमतें लगातार बढ़ रही है। अंतरराष्ट्रीय बाजार के कारण इस महीने कीमतों में इजाफा हुआ है। हालांकि, ऐसे संकेत हैं कि अगले महीने इसकी कीमतों में कमी आ सकती है।’

उन्होंने कहा कि ‘सर्दियों के दौरान एलपीजी की खपत बढ़ी थी, जिस कारण इस क्षेत्र में दवाब बढ़ गया था । इस महीने कीमतों में इजाफा हुआ जबकि अगले महीने इसमें कमी आयेगी।’ पिछले हफ्ते घरेलू गैस कीमतों में 144 रुपये 50 पैसे का इजाफा हुआ था ।बता दें कि, हर महीने की 1 तारीख को घरेलू रसोई गैस के दाम तय किए जाते हैं। इस बार 10 मार्च (मंगलवार) को होली है अगर 1 मार्च को रसोई गैस के दाम घटाए जाते हैं तो आम उपभोक्ताओं को बड़ी राहत मिलेगी।

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के तुरंत बाद ही 12 फरवरी को इंडियन ऑयल ने घरेलू रसोई गैस के दाम 150 रुपए प्रति सिलेंडर बढ़ा दिए थे। इंडियन ऑयल के मुताबिक, दिल्ली में 14 किलो के इंडेन गैस सिलेंडर की कीमत 144.50 रुपये की तेजी के साथ 858.50 रुपए हैं। आईएएनएस की रिपोर्ट के अनुसार, 5 साल के दौरान LPG Cylinder की कीमतों में हुई यह अबतक की सबसे अधिक बढ़ोत्‍तरी है। भारत में एलपीजी सिलेंडर की कीमत दो चीजों पर निर्भर करती है। इसमें पहला है एलपीजी का इंटरनेशनल बेंचमार्क रेट और दूसरा है यूएस डॉलर और रुपये का एक्सचेंज रेट। आपको बता दें कि फ्यूल रिटेलर्स एलपीजी सिलेंडर को बाजार कीमत पर बेचते हैं, लेकिन सरकार प्रत्येक परिवार को हर साल 12 सिलेंडर में सीधे सब्सिडी प्रदान करती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.