इस्लामाबाद: पाकिस्तान की जनता के जीवन में खुशहाली लाने का वादा करके सत्ता में आए प्रधानमंत्री इमरान खान इन दिनों काफी टेंशन में हैं। देश में चीनी और आटे की कीमतों में हुई बेतहाशा बढ़ोत्तरी के चलते जनता के बीच इमरान सरकार को लेकर भारी नाराजगी है। इन दोनों जरूरी चीजों को लेकर हालात इतने खराब हो गए हैं कि खुद प्रधानमंत्री इमरान खान को सामने आना पड़ा है। इमरान खान ने आटे और चीनी की बढ़ती कीमतों की जांच करके दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के न‍िर्देश द‍िए हैं।

इमरान ने ट्वीट के जरिए पाकिस्तान की जनता को भरोसा दिलाने की कोशिश की है कि जल्द ही महंगाई पर काबू पा लिया जाएगा। अपने ट्वीट में इमरान ने कहा, ‘मैं आम लोगों और वेतनभोगी वर्गो की समस्याओं को समझता हूं और चाहे जो भी हो, मेरी सरकार मंगलवार को कैबिनेट में उन कई उपायों की घोषणा करेगी, जिसके अंतर्गत आम आदमियों के लिए जरूरी खाद्य सामग्रियों की कीमतें कम की जाएंगी।’ उन्होंने कहा कि मैं देश को भरोसा दिलाता हूं कि जो लोग इसके लिए जिम्‍मेदार होंगे उनके खिलाफ कार्रवाई होगी और सजा दी जाएगी।

100 रुपये पर चीनी, 72 रुपये पर आटा
पाकिस्तान में इन दिनों आटे के साथ-साथ अब चीनी की भी कमी देखने को मिल रही है। एक रोटी के लिए इस देश में अब 12-15 रुपये चुकाने पड़ रहे हैं, जो पहले 5-7 रुपये में मिल जाती थी। वहीं, चीनी के भाव थोक बाजार में 74 रुपये किलो तक पहुंच गए हैं और माना जा रहा है कि जल्द ही इसका फुटकर भाव 100 रुपये प्रति किलो तक पहुंच सकता है। बता दें कि इससे पहले पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ के कार्यकाल में चीनी की कीमतें 105 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गई थीं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.