दिल्‍ली – बगदाद पर अमेरिकी एयर स्ट्राइक के बाद एशियन मार्केट में तेल के दामों में आग लग गई है. अमेरिका ने 3 जनवरी 2020 की सुबह ही बगदाद एयरपोर्ट पर एयर स्ट्राइक कर ईरान के जनरल कासिम सुलेमानी को मार गिराया. कासिम सुलेमानी ईरान के elite Quad Force का कमांडर था जो कि ईरान के राष्ट्रपति के बाद दूसरी नंबर की पोजिशन रखता था. स्पूटनिक के अनुसार, एशियन मार्केट में ब्रेट क्रूड ऑयल में करीब 1.31 पर सेंट की वृद्धि हुई है जो कि आज (3 जनवरी) वक्त 67.12 प्रति बैरल के स्तर तक रहा जबकि यूएस में क्रूड के दाम भी 1.24 फीसदी तक बढ़ गए, आज (3 जनवरी) को यूएस डॉलर में 67.12 प्रति बैरल के भाव रहे.

अमेरिका ने कंफर्म किया है कि सुलेमानी को डिफेंसिव एक्शन के तहत राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कहने पर इस कार्यवाही को अंजाम दिया. अमेरिका की ओर से कहा गया है कि सुलेमानी को मार कर उसने विदेशों में अपनी जनता को बचाने का काम किया है. बता दें कि इस हमले में सुलेमानी के साथ, इराकी मिलिशिया के कमांडर Abu Mahdi al-Muhandis के साथ 5 अन्य लोगों की भी मार गिराया गया है.

बता दें कि पिछले दिनों ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बगदाद में अमेरिकी दूतावास पर हुए हमले का खामियाजा भुगतने की बात कही थी. उधर, इराकी स्टेट टीवी ने खबर दी है कि अमेरिका की ओर से किए गए हमले में ईरान के टॉप कमांडर जनरल कासिम सोलेमनी भी मारे गए हैं. जनरल कासिम सोलेमनी ईरान के एलीट स्क्वॉ‍ड फोर्स के कमांडर थे. इस एयरस्ट्राइक में Abu Mahdi al-Muhandis के भी मरने की खबर है जो मिलिशिया के डिप्टी कमांडर थे, जिसे मोबलाइजेशन फोर्स के नाम से भी जाना जाता है.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने हमले के लिए ईरान को जिम्मेदार बताया और तेहरान को उत्तरदायी ठहराया. पहले उन्‍होंने ट्वीट किया था कि ईरान और इराक में अमेरिकी दूतावास पर हमले की साजिश रच रहा है. इसके लिए जो भी भुगतान होगा वो ईरान को भुगतना होगा. बता दें कि 31 दिसंबर को इराकी प्रदर्शनकारियों ने बगदाद में अमेरिकी दूतावास परिसर की बाहरी दीवार को तोड़ दिया. अमेरिकी सुरक्षा बलों ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए परिसर के अंदर आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े थे.

इसके पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दी 2020 (New Year 2020) की विंध्वंसक बधाई दी थी. राष्ट्रपति ट्रंप ने 2019 के आखिरी दिन कहा था कि उन्हें उम्मीद है कि इराक बगदाद में अमेरिकी दूतावास की सुरक्षा करने के लिए ‘अपने बलों का इस्तेमाल करेगा। ट्रंप ने ट्वीट किया कि हम उम्मीद करते हैं कि इराक दूतावास की सुरक्षा के लिए अपनी सेना का उपयोग करेगा.

रिपोर्ट – न्यूज नेटवर्क 24

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.