पुणे – देश में हर तरफ छात्रों का विरोध देखने को मिल रहा है. जहां एक तरफ नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जामिया मिल्‍ल‍िया इस्‍लामिया यूनिवर्सिटी, डीयू, TISS, एएमयू और अन्‍य कॉलेजों के छात्र विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर FTII के चार छात्र भूख हड़ताल पर हैं.

फिल्‍म एंड टेलीविजन इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया (FTII) के चार छात्रों ने मंगलवार को अनिश्‍च‍ितकालीन भूख हड़ताल की घोषणा की है. छात्रों ने कहा कि वे यह कदम फीस में हुई बढ़ोतरी के खिलाफ उठा रहे हैं. फिल्‍म एंड टेलीविजन इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया (FTII) ने हाल ही में प्रवेश परीक्षा फीस और अकादमिक फीस भी बढ़ा दी है.

FTII छात्र संघ के अनुसार संस्‍थान साल 2013 बैच के बाद साल दर साल 10 फीसदी के हिसाब से फीस में बढ़ोतरी कर रहा है. साल 2013 में एनुअल फीस 55,380 थी, जो अब साल 2020 बैच के लिए 1,18,323 होगी.

उन्‍होंने कहा कि FTII और सत्‍यजीत रे फिल्‍म एंड टेलीविजन इंस्‍टीट्यूट के लिए होने वाले ज्‍वाइंट एंट्रेंस टेस्‍ट का आवेदन शुल्‍क भी बढ़ा दिया गया है. साल 2015 में जो एंट्रेस एग्‍जाम फी 1500 रुपये थी, वह अब बढ़कर 10,000 हो गई है. यह आवेदन शुल्‍क JET 2020 के लिए लागू होगा.

FTII छात्र संघ का कहना है कि देश में ऐसे बहुत से लोग होंगे जो संस्‍थान में दाखिला चाहते होंगे, लेकिन फीस बढ़ोतरी के कारण वह ऐसा करने में असमर्थ होंगे. फीस बढ़ोतरी की इस गति को रोकना होगा. फीस बढ़ोतरी को लेकर छात्र पिछले तीन साल से विरोध कर रहे हैं. लेकिन कोई सुनवाई न होने के कारण अब उन्‍हें भूख हड़ताल करनी पड़ रही है. छात्रों ने कहा कि जब तक फीस कम नहीं की जाती, तब तक JET 2020 परीक्षा पर रोक लगा देनी चाहिए.

रिपोर्ट – एजेंसी इनपुट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.