झारखंड –  विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में 20 सीटों पर 260 प्रत्याशी लड़ रहे हैं। इनमें से 67 उम्मीदवारों (26 प्रतिशत) ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं जबकि 44 (17 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपने ऊपर गंभीर आपराधिक मामलों की जानकारी दी है। यह रिपोर्ट झारखंड इलेक्शन वाच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉम्र्स (एडीआर) ने विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में चुनाव लड़ने वाले सभी 260 उम्मीदवारों के शपथ पत्रों का विश्लेषण करने के बाद तैयार किया है।

महिला अत्याचार –  दूसरे चरण के चार उम्मीदवारों ने महिलाओं के ऊपर अत्याचार से संबंधित मामले घोषित किए हैं। इन चार उम्मीदवारों में से एक ने अपने ऊपर बलात्कार (आईपीसी 376) से संबंधित मामला घोषित किया है।

हत्या के आरोपी –  चार उम्मीदवारों ने अपने ऊपर हत्या (आईपीसी 302) से संबंधित मामले घोषित किए हैं। आठ प्रत्याशियों ने अपने ऊपर हत्या का प्रयास (आईपीसी 307) से संबंधित मामले की जानकारी दी है।

दोषसिद्ध मामले –  इस चरण के तीन उम्मीदवारों ने अपने ऊपर दोषसिद्ध मामले घोषित किए हैं।

सबसे अमीर टॉप तीन प्रत्याशी
प्रत्याशी कुल संपत्ति
रामदास सोरेन (जेएमएम) 9 करोड़
अभय सिंह (झाविमो) 9 करोड़
रेजी डुंगडुंग (झापा) 8 करोड़
सबसे कम संपत्ति वाले प्रत्याशी
प्रत्याशी कुल संपत्ति
माधवचंद्र कुनकल (निर्दलीय) 2 हजार
पुष्पा सिंकू (निर्दलीय) 7 हजार
अजय होंहागा (निर्दलीय) 7 हजार

देनदारी में अव्वल
प्रत्याशी कुल देनदारी
अमित कुमार सिंह (जदयू) 1 करोड़
सत्यानंद गोंद (जदयू) 1 लाख
तारकेश्वर तिवारी (एसएचएस) 90 लाख

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.