दिल्ली –  सरकार ने गुटखा उत्पादन और नशे की लत से बचाने के लिए बड़ा कदम उठाया है। बिहार के बाद अब पड़ोसी पश्चिम बंगाल में भी गुटखा और पान मसाले पर पाबंदी लगाने का फैसला लिया है। इन उत्पादन पर सात नंवबर से एक साल के लिए पाबंदी लगाई गई है। उसके बाद इसके आने वाले असर को देखा जाएगा फिर इसे जारी रखने पर फैसला किया जाएगा।

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग द्वारा हाल में जारी अधिसूचना के मुताबिक खाद्य सुरक्षा कानून के तहत गुटखा और पान मसाला के उत्पादन, भंडारण, वितरण, ढुलाई और बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध होगा।बिहार, उत्तराखंड और राजस्थान जैसे राज्यों में तंबाकू, निकोटीन, मैग्नेशियम कार्बोनेट और मिनरल ऑयल वाले पान मसाला पर पहले से प्रतिबंध है। वैश्विक वयस्क तंबाकू सर्वेक्षण दो (जीएटीएस 2) के मुताबिक पश्चिम बंगाल में 20 प्रतिशत से अधिक आबादी धुआं रहित तंबाकू का इस्तेमाल करती है। इसमें 82.8 प्रतिशत पुरूष और 17.2 प्रतिशत महिलाएं हैं।

रिपोर्ट – न्यूज नेटवर्क 24

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.