संत कबीर नगर – समाजवादी पार्टी के लिए इस बार दीपावली जगमग करने वाली है। उपचुनाव के नतीजों ने सपा को मुस्कुराने का मौका दे दिया है। उसने भगवा पार्टी से बाराबंकी की जैदपुर सीट छीन ली तो बसपा से उसकी सिंटिंग सीट जलालपुर झटकने में कामयाब रही। यह तब हुआ जब बसपा लोकसभा चुनाव बाद सपा के मूल वोट बैंक खिसक जाने की बात कहती थी। सपा ने रामपुर का प्रतिष्ठित चुनाव भी जीत लिया। यही नहीं सपा ने महाराष्ट्र विधानसभा उपचुनाव में मुंबई की दो सीटें मानखुर्द शिवाजी नगर व भिवंडी ईस्ट भी अपना परचम फहराया।

सियासी दलों की इस मिनी परीक्षा से साफ है कि सपा ही भाजपा को कड़ी चुनौती देने की स्थिति में है। 11 में उसने तीन सीटें जीतीं। उपचुनाव के कुछ समय पहले बसपा ने लोकसभा चुनाव में सपा से बने गठबंधन को तोड़ते हुए आरोप लगाया था कि उसका मूल वोट बैंक ही उससे खिसक गया है और सपा अपने परिवार के सदस्यों को नहीं जिता पाई। पर, उपचुनाव में सपा के प्रदर्शन से यह बात बेमानी साबित होती नज़र आ रही है। लोकसभा चुनाव नतीजों में नंबर तीन पर पहुंच गई सपा विधानसभा उपचुनाव में अब नंबर दो पर आ गई है। विधानसभा चुनाव के बाद भी नंबर दो पर थी।

लोकसभा चुनाव में झटका खाकर निराशा में डूबी सपा के लिए यह नतीजे किसी ‘टानिक’ से कम नहीं हैं। हालांकि गठबंधन तोड़ने की पहल सपा की ओर से नहीं हुई लेकिन अब सपा को अहसास है कि अकेले चुनाव लड़कर कार्यकर्ताओं में खोया आत्मविश्वास लौटाया जा सकता है। जिसकी उसे सख्त जरूरत है। यही कारण है कि उपचुनाव के बीच ही सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव कहने लगे थे कि अगले विधानसभा चुनाव में सपा न बसपा से समझौता करेगी न कांग्रेस से , असल में इन दोनों दलों से गठजोड़ कर नुकसान उठाने के बाद सपा को अहसास है कि अकेले चुनाव लड़ना ज्यादा बेहतर है।

रामपुर में प्रतिष्ठा बचाई – सपा के लिए रामपुर का उपचुनाव खासा संघर्षपूर्ण हो गया था। एक ओर सपा के दिग्गज आजम खां पर बड़ी संख्या में प्रशासन ने मुकदमे दर्ज कर दिए थे। वहीं कांग्रेस व बसपा भी लड़कर कहीं न कहीं सपा को नुकसान पहुंचा रहे थे। लंबे समय तक सपा की सांसद रहीं जया प्रदा ने भी आजम खां के खिलाफ भाजपा के पक्ष में खूब जनसभाएं कीं। पर अखिलेश ने यहां दो बार चुनावी दौरा किया तो आजम खां ने भी खुद को पीड़ित के तौर पर पेश किया। जीत ने साबित कर दिया है कि रामपुर में आज़म का जनाधार बरकरार है।

रिपोर्ट – गंगेश्वर यादव

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.