लखनऊ- प्रदेश में लगातार हो रहे दंगों और जघन्य अपराधों को लेकर समाजवादी पार्टी ने एक बार फिर प्रदेश की योगी सरकार को निशाने पर लिया। सपा ने कहा कि बीजेपी ने उत्तर प्रदेश को ‘हत्या प्रदेश’ बना दिया है। यह टिप्पणी समाजवादी पार्टी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया गया है, जिसमें लिखा है, ‘हत्या प्रदेश की राजधानी बन चुकी लखनऊ में अपराधियों को क़ानून का रत्तीभर डर नहीं! 22 दिन…12 गोलीकांड…चार हत्याएं।

दरअसल पिछले कई दिनों से प्रदेश दिनदहाड़े गोलियां चल रही हैं। आए दिन विभिन्न जिलों से सरेआम हत्या की खबर आ रही है, जिस कड़ी में प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भी इसी हफ्ते कई जगहों पर मनबढ़ों ने गोली मारकर कई लोगों की हत्या कर दिया। इसी घटना पर समाजवादी पार्टी ने एक अखबार की कटिंग लगाकर टिप्पणी किया है।
इससे पहले अखिलेश ने कहा था कि उत्तर प्रदेश अपराधियों की गिरफ्त में हैं। कब किसकी हत्या हो जाए, कुछ कहा नहीं जा सकता है। बीजेपी की सरकार ने राज्य को डरा दिया है। इतने बुरे हालात प्रदेश में कभी नहीं रहे।

सपा का आरोप है कि समाज विशेष के प्रति प्रशासन की उत्पीड़नकारी नीतियों के चलते कितने ही परिवार पुलिस उत्पीड़न के शिकार हुए हैं। कई निर्दोषों को मुठभेड़ के बहाने मार दिया गया। सरकार की उदासीनता और उत्पीड़न से परेशान कई लोग आत्महत्या करने को मजबूर हो गए हैं।

बीते कई दिनों से प्रदेश में एंबुलेंस चालकों ने हड़ताल कर दिया था। जिससे प्रदेश में कई लोगों कि मौत भी हो गई जिस पर टिप्पणी करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर प्रदेश सरकार को घेरा था। उन्होंने ट्वीट कर लिखा था कि “नीति आयोग की रिपोर्ट में स्वास्थ्य के पैमाने पर उप्र का निम्नतम आना ये दर्शाता है कि बीजेपी राज में किस प्रकार स्वास्थ्य व चिकित्सा सेवाएं उपेक्षित हुई हैं। राजनीति के नाम पर एम्बुलेंस सेवाएं भी सुचारु नहीं हैं. गोरखपुर देश भर में स्वास्थ्य सेवाओं की दुर्गति की राजधानी बन गया है।”

रिपोर्ट – न्यूज नेटवर्क 24

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.