औरैया – पोषण माह के तहत गुरुवार को आंगनबाड़ी केंद्रों पर पोषण चौपाल का आयोजन हुआ। इसमें केंद्रों के पंजीकृत बच्चों के अभिभावकों ने भाग लिया। इस दौरान बच्चों के सर्वांगीण विकास पर चर्चा के साथ ही उनके शारीरिक, बौद्धिक और मानसिक विकास संबंधी जानकारियों को साझा किया गया।

जिला कार्यक्रम अधिकारी शरद अवस्थी ने बताया कि जनपद के सभी केंद्रों पर गुरुवार को ईसीसीई डे (अर्ली चाइल्ड केयर एजूकेशन) के तहत चौपाल का आयोजन हुआ। इसमें आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के अलावा केंद्रों में पंजीकृत बच्चों के अभिभावकों को आमंत्रित किया गया था। इसके अलावा गांवों में महिला और शिशु स्वास्थ्य पर कार्य करने वाली संस्थाओं को भी इसमें बुलाया गया था। चौपाल मुख्य रूप से बच्चों के शारीरिक, मानसिक और बौद्धिक विकास पर केंद्रित थी। केंद्रों पर बच्चों द्वारा की जा रही गतिविधियों से अभिभावकों को रूबरू कराया गया। साथ ही बच्चों में और भी सुधार को लेकर सुझाव मांगे गए।

अभिभावकों में खासतौर पर महिलाएं भी चौपाल में पहुंची थी। आंगनबाड़ी केंद्र की कार्यकर्ता सुमन ने अभिभावकों को ऊपरी आहार के विषय में भी जानकारी दी। उन्होने कहा कि बच्चों के सही विकास के लिए उन्हें सही पोषण देना जरूरी है। केंद्रों से मिलने वाले पोषाहार के अलावा घरों में भी रोजमर्रा में पकने वाले व्यंजनों में विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व होते है, अगर उनका नियमित सेवन किया जाए तो कुपोषण की समस्या कभी नहीं आएगी। बीमारी के समय बच्चों को कैसे भोजन कराया जाए, इस विषय में भी जानकारी दी गई।

रिपोर्ट – आलोक चौहान 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.