हमीरपुर –  यूपी के अधिकांश जिलों के साथ हमीरपुर जिले में भी बाढ़ का प्रकोप दिखाई देने लगा है। मुख्यालय के कुछेछा के पास से ही जुड़े हुए सिडरा गांव में बाढ़ का पानी घुस गया है। जिसके कारण लोगों का जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। लोगों के घर पूरी तरह से जलमग्न हो चुके हैं। बाढ़ के कारण कुछ लोगों के मकान भी ढह गए हैं।  लोगों के सामने रहने व खाने पीने का संकट उत्पन्न हो गया है।

मध्य प्रदेश में हो रही झमाझम बारिश के चलते फिर से माताटीला बांध से पानी बेतवा नदी में छोड़ा गया है,  साथ ही साथ यमुना नदी में भी पानी छोड़ा गया है। जिसके चलते मुख्यालय से होकर गुजरने वाली यमुना व बेतवा नदियों का जल स्तर उफान पर है। बेतवा नदी का वर्तमान जल स्तर 103.85 है।  साथ ही बेतवा नदी में अभी 1 मीटर जल स्तर बढ़ने की संभावना जताई जा रही है। प्रशासन बाढ़ की संभावनाओं को लेकर अलर्ट है। जिले के आलाधिकारियों को एहतियात बरतने को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं।

इस बाढ़ से अच्छा खासा नुकशान भी देखने को मिल रहा है। प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी यमुना और बेतवा नदी उफान पर है। दो दर्जन से अधिक लोगों के घर पूरी तरह जलमग्न हो गए हैं। बाढ़ के पानी से कुछ लोगो के घर, मकान भी ढह गए हैं। लोगों के सामने रहने खाने पीने की समस्या उत्पन्न हो गई है। लोग प्रशासन से मदद की आस लगाए सड़क पर रहने को मजबूर हैं। इस बाढ़ से लगभग 4 दर्जन से ज्यादा गांव प्रभावित होने की सम्भावना है, जिला प्रशासन ने नावों की व्यवस्था करने,व  मोबाइल बैरियर तैनात कराने के निर्देश दिए गए है।

रिपोर्ट- मुहम्मद मुख्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.