नई दिल्ली-  भारत  के जाने माने क्रिकेटर दिनेश कार्तिक की मुसीबत एक बार फिर बढ़ गई है। दिनेश कार्तिक विकेटकीपर बल्लेबाज के साथ ही साथ कोलकाता नाइट राइडर्स आईपीएल कप्तान भी हैं। दिनेश कार्तिक को बीसीसीआई ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। बीसीसीआई ने कार्तिक को यह नोटिस कैरिबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) की टीम त्रिनबागो नाइट राइडर्स के ड्रेसिंग रूम में जाने के कारण दिया है। कार्तिक टीम के कोच ब्रैंडन मैक्कलम के साथ ड्रेसिंग रूम में थे। मैकलम को हाल ही में कोलकाता का भी कोच नियुक्त किया गया है।

बोर्ड के एक सीनियर अधिकारी ने बात करते हुए इस बात पर जोर दिया है कि कार्तिक को बिना इजाजत के ऐसा नहीं करना चाहिए थी क्योंकि अभी भी बोर्ड के केंद्रीय अनुबंध प्राप्त खिलाड़ियों की सूची में हैं। दिनेश कार्तिक को इस प्रकरण पर सात दिन के अंदर इस नोटिस का जवाब देना है।

अधिकारी ने कहा, “चूंकि वह भारतीय टीम के खिलाड़ी हैं, तो ऐसे में कुछ हमारे प्रोटोकॉल होते हैं जिनका पालन करना होता है। वह केंद्रीय अनुबंध में शामिल हैं और ऐसे में वह बीसीसीआई की इजाजत के बिना सीपीएल के ड्रेसिंग रूम में नहीं जा सकते। त्रिनबागो और कोलकाता दोनों की फ्रेंचाइजियों का हक भारतीय अभिनेता शाहरुख खान के पास है।

यह बात साफ नहीं है कि कार्तिक का ड्रेसिंग रूम में जाना आम तौर पर किया गया व्यवहार था या आईपीएल के अगले सीजन को लेकर रणनीति बनाने को लेकर वह वहां गए थे। कार्तिक का भविष्य अब इस बात पर निर्भर करता है कि प्रशासकों की समिति (सीओए) इस मसले को किस तरह का निर्णय लेते हैं।

15 साल पहले करियर की शुरुआत करने वाले दिनेश कार्तिक आज भी टीम इंडिया में पक्की जगह नहीं रखते हैं। दिनेश कार्तिक ने सितंबर 2004 में इंग्लैंड के खिलाफ डेब्यू किया था। उसी साल नवंबर में कार्तिक ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना पहला टेस्ट भी खेला था। उन्होंने भारत के लिए 94 वनडे और 26 टेस्ट मैच खेले हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.