जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद जदयू नेताओं के तरफ से इस फैसले पर विरोधी बयान आ रहे थे, लेकिन अब इस फैसले पर जदयू ने सहमती जताई है। जदयू सांसद आरसीपी सिंह ने कहा कि जब कोई कानून बनता है तो वह देश का कानून होता है और कानून का सबको पालन करना चाहिए। आरसीपी ने कहा कि जॉर्ज फर्नांडिस एनडीए के कन्वेनर थे उन्होंने ही तय किया था जदयू विवादित मुद्दे के साथ नहीं है। हमे 370 से लगाव था। हमने विरोध इसलिए किया था, क्योंकि जॉर्ज साहेब के आत्मा को तकलीफ ना हो। राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह ने कहा कि अब कश्मीर से धारा 370 खत्म हो गई है।अब कानून बन चुका है और कानून का सबको पालन करना चाहिए।

जेडीयू ने जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 और 35A को हटाए जाने का विरोध तो किया, लेकिन संसद में विधेयक और प्रस्ताव के खिलाफ वोटिंग नहीं की। पार्टी के इस रवैया से नाराज एमएलसी गुलाम रसूल बलियावी ने मोर्चा खोल रखा है। एमएलसी गुलाम रसूल बलियावी ने आरसीपी सिंह पर निशाना साधते हुए कहा है कि कौन क्या बोल रहा है, इसे मैं नहीं जानता। बलियावी ने कहा है कि हमारे नेता नीतीश कुमार है बाकी किसी के बोलने का मुझ पर कोई असर नहीं पड़ने वाला।

आरसीपी ने अपने बयान के जरिए जदयू नेताओं को भी चेताया है। उन्होंने कहा है कि पार्टी के नेता बयान देने में गंभीरता दिखाएं ऐसी बातें ना करें। पार्टी की लाइन और सीमा में रह कर बयान दें और अगर पार्टी लाइन पसन्द नही हैं तो वह कही भी जाने के लिए स्वतंत्र है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.