दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखकर आज बड़ा एलान कर दिया है। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि अगर आप 200 यूनिट तक बिजली खर्च करते हैं तो कोई बिल देने की आवश्यकता नहीं है। अगर 200 यूनिट से ऊपर खर्च करते है तो उसको पहले की तरह पूरा बिल देना ही होगा। इस छूट से सब्सिडी पर लगभग 1800 करोड़ का खर्च सरकार पर आएगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि 2013 से पहले 200 यूनिट के लिए 900 रुपया देना पड़ता था और अब 200 यूनिट के लिए कोई पैसे नहीं देना होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में बिजली कंपनियों का घाटा 17 फीसदी से घटकर 8 फीसदी पर आ गया है। साथ ही कहा कि जो जो लोग दिल्ली में बिजली की 200 यूनिट तक खपत करते हैं, उनको अपने बिजली के बिल देने की आवश्यकता नहीं होगी। उनके बिजली के बिल माफ होंगे। यह घोषणा इसलिए संभव होगी कि क्योंकि दिल्ली के लोगों एक ईमानदार सरकार को चुना।

जानकारों का कहना है कि अगले साल 2020 में दिल्ली विधानसभा के चुनाव होने जा रहे हैं। क्योंकि लोकसभा चुनाव के परिणाम में सीटाें पर अाम आदमी पार्टी तीसरे स्थान पर आई थी। इससे पहले डीटीसी बसों और मेट्रो में महिलाओं को निशुल्क यात्रा की घोषणा भी कर चुके हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.