पूर्ववर्ती थेरेसा मे सरकार की मुखर आलोचक और ब्रेक्जिट की समर्थक प्रीति पटेल, नवनियुक्‍त बोरिस जॉनसन की सरकार में गृह मंत्री बनी हैं। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की टीम में इस अहम पद पर पहुंचने वाली वह पहली भारतीय मूल की नेता हैं।

 

गुजराती मूल की नेता प्रीति ब्रिटेन में भारतीय मूल के लोगों के सभी प्रमुख कार्यक्रमों में अतिथि होती हैं। ब्रिटेन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उत्साही प्रशंसक के रूप में प्रीति को देखा जाता है। पूर्व प्रधानमंत्री टेरीजा मे की ब्रेक्जिट रणनीति के मुखर आलोचकों में शामिल प्रीति पटेल ने बुधवार को नये प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की कैबिनेट में गृह मंत्री के रूप में कार्यभार संभाला। इस प्रकार वह ब्रिटेन में भारतीय मूल की पहली गृह मंत्री बनीं। प्रीति कंजरवेटिव पार्टी नेतृत्व के लिए ‘‘बैक बोरिस’’ अभियान की प्रमुख सदस्य थीं और पहले से संभावना थी कि उन्हें नई कैबिनेट में कोई बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है।

उन्होंने उनकी नियुक्ति की घोषणा से कुछ घंटे पहले कहा, ‘‘यह महत्वपूर्ण है कि कैबिनेट आधुनिक ब्रिटेन और आधुनिक कंजरवेटिव पार्टी को प्रदर्शित करे। कंजरवेटिव पार्टी की नेता प्रीति पटेल को साजिद जावीद की जगह गृह मंत्री बनाया गया है। साजिद जावीद पाकिस्‍तानी मूल के हैं और वित्‍त मंत्री बनाया गया है। इस पद पर पहुंचने वह पहले जातीय अल्‍पसंख्‍यक समुदाय के नेता हैं। इससे पहले ब्रिटेन में सत्तारूढ़ कंजर्वेटिव पार्टी के नेता व पूर्व विदेश सचिव बोरिस जॉनसन मंगलवार को अगला प्रधानमंत्री चुने गए। उन्होंने अपने विजय भाषण में समर्थकों को तेजी के साथ बेहतर काम करने का भरोसा जताया। जॉनसन की जीत शानदार रही और उन्होंने 92,153 वोट हासिल किए, जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी जेरेमी हंट महज 46,656 वोटों पर सिमट गए।

जॉनसन की शानदार जीत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर उन्हें बधाई दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर लिखा ‘मैं आपकी सफलता की कामना करता हूं। भारत-यूके की साझेदारी को और मजबूत करने के लिए आपके साथ काम करने की आशा करता हूं।’ बता दें कि 55 साल के बोरिस जॉनसन ब्रेग्जिट के प्रबल समर्थक हैं। उन्होंने इसके पक्ष में जमकर अभियान चलाया था।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.