भारतीय वायुसेना का लापता विमान एएन-32 को तलाशने का प्रयास लगातार नौवें दिन भी जारी है। वायुसेना का विमान एएन-32 तीन जून से लापता है। इसमें चालक दल के आठ सदस्य और पांच यात्री समेत कुछ 13 लोग सवार थे। अरुणाचल प्रदेश के सुदूर मेंचुका इलाके में मौसम खराब होने के दो दिनों के अंतराल के बाद मंगलवार को हेलीकॉप्टरों और विशेष विमानों के जरिए हवाई तलाशी अभियान फिर से शुरू किया गया है।

अधिकारियों ने यह जानकारी दी है। शिलॉन्ग में तैनात वायुसेना के प्रवक्ता रत्नाकर सिंह ने कहा कि वायुसेना, थलसेना, जिला प्रशासन एवं स्थानीय लोगों की तरफ से चलाए गए तलाश अभियान के बावजूद लापता विमान का अता-पता नहीं चल सका।

प्रवक्ता ने कहा, ‘दिन में हेलीकॉप्टर और सी130जे विमान हवाई तलाश अभियान चला रहे थे जबकि यूएवी और सी-130जे विमान के जरिए रात के वक्त इसे जारी रखा जाएगा ताकि लापता विमान का पता लगाया जा सके।’ उन्होंने कहा कि भारतीय थलसेना, आईटीबीपी, राज्य पुलिस और स्थानीय लोगों की टीमों ने पर्वतीय इलाके में पूरे जोर-शोर से अभियान जारी रखा।

इससे पहले वायु सेना के प्रवक्ता विंग कमांडर रत्नाकर सिंह ने बताया था कि खराब मौसम के बावजूद वायु सेना, थल सेना और स्थानीय प्रशासनों का संयुक्त खोज अभियान जारी रहा। सिंह ने शुक्रवार को कहा, ‘भारतीय सेना और स्थानीय लोगों की जमीनी टुकडिय़ां और सी130जे के अलावा हेलीकॉप्टरों, भारतीय नौसेना के पी8आई द्वारा तलाशी अभियान चलाया जा रहा है, लेकिन विमान का अभी तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है।’ पिछले दिनों वायुसेना ने ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने कुछ रिपोट्र्स में क्रैश साइट को लेकर आशंका जताई गई थी, लेकिन अब तक किसी तरह का मलबा नहीं मिला।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया था कि स्थानीय और जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ भारतीय सेना और भारत-तिब्बत सीमा पुलिस की टीमें सियांग जिले के आसपास के इलाकों की तलाश कर रही हैं। खोज अभियान में लगभग 2,500 वर्ग किमी का क्षेत्र शामिल है, जो सियांग जिले के कायींग और पायुम क्षेत्र के अंतर्गत आता है। अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने विमान के लिए खोज अभियान तेज करने की खातिर सियांग, पश्चिम सियांग, निचली सियांग और शि-योमी के जिला प्रशासन से बात की।

विमान अरुणाचल प्रदेश के मेचुका एयर फील्ड के ऊपर से लापता हुआ था। यह क्षेत्र चीन सीमा के काफी करीब है। भारतीय वायुसेना ने फिलहाल विमान की खोज के लिए एक सुखोई-30, सी-130 स्पेशल ऑप्स एयरक्राफ्ट, एएन-32, दो एमआई-17 हेलिकॉप्टर और सेना के दो एएलएच हेलिकॉप्टर लगाए हैं।

तीन साल पहले 22 जुलाई 2016 को भारतीय वायुसेना का एयरक्राफ्ट एएन-32 लापता हो गया था। इसमें 29 लोग सवार थे। एयरक्राफ्ट चेन्नई से पोर्ट-ब्लेयर की ओर जा रहा था। बंगाल की खाड़ी के बाद इसका संपर्क टूट गया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.