राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा में पुलिस ने नमाज पढ़ने को लेकर एक फरमान जारी किया है। नोएडा पुलिस ने पार्क में नमाज को लेकर एक को लेकर एक कंपनी को नोटिस जारी किया है। पुलिस ने नोटिस में कहा है कि अगर नमाज पर रोक नहीं लगाई गई तो कंपनी को इसके लिए जिम्मेदार मानी जाएगी। नोएडा सेक्टर 58 के एसएचओ की ओर से जारी किए गए पत्र में ये बात कही गई है।

पुलिस का कहना है कि अगर पार्क में किसी भी तरह का धार्मिक आयोजन करना है तो अथॉरिटी से इजाजत लेनी होगी। नोएडा के एसएसपी अजय पाल ने बताया कि कई लोगों ने पार्क में प्रार्थना की इजाजत मांगी थी, लेकिन सिटी मैजिस्ट्रेट ऑफिस से इजाजत नहीं दी गई। बावजूद इसके लोग वहां पहुंचकर नमाज पढ़ने देखे गए। सभी कंपनियों को नोटिस भेजकर यह जानकारी दे दी गई थी और यह रोक किसी धर्म विशेष के लिए नहीं है।

अथॉरिटी के इस पार्क में आसपास की कंपनियों के कर्मचारी पहुंचते हैं। दोपहर के वक्त नमाज पढ़ने के लिए इन कंपनियों से काफी लोग पहुंचते हैं। नोएडा पुलिस का कहना है कि यह कदम इसलिए उठाया गया है ताकि 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले किसी तरह का सांप्रदायिक तनाव न पनपे और सौदार्द बना रहे। अजय पाल ने कहा कि पुलिस कोउम्मीद है कि सौहार्द कायम रखने में लोग गौतम बुद्ध नगर पुलिस का साथ देंगे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.