नई दिल्‍ली। भारतीय सैनिकों के साथ हुई बर्बरता के बाद सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने गुरुवार को कहा कि सेना बताकर जवाबी कार्रवाई नहीं करती है। इससे संकेत मिला है कि जम्मू कश्मीर में पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा दो भारतीय सुरक्षाकर्मियों की जान लेकर उनके शव क्षत विक्षत करने के मामले पर संभावित जवाबी कार्रवाई होगी। वहीं पाकिस्तान ने ऐसी किसी भी घटना से इनकार किया है। रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने कहा था कि पाकिस्तान के सैनिकों ने भारतीय सैनिकों के शव के साथ बर्बरता की थी। इस पर पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नफीस जकारिया ने पाक के रेडियो स्टेशन में कहा कि इस घटना में पाकिस्तान का कोई हाथ नहीं है।

भारत ने आरोप लगाने का अधिकार खो दिया है
जकारिया ने दावा किया है कि भारत ने संयुक्त राष्ट्र के सामने कोई भी आरोप लगाने का अधिकार खो दिया है क्योंकि यह कभी भी विश्व संगठन का पालन नहीं किया है और न ही यूएन सैन्य पर्यवेक्षक समूह की स्थापना में सहयोग किया है। उन्होंने कहा कि भारत अपनी अंतरिक राजनीति चलाने के लिए ‘पाकिस्तान कार्ड’ खेलता है और दुनियाभर की नजर कश्मीर में हो रहे अत्याचार से भटकाने की कोशिशें करता रहता है।वहीं पाकिस्तान की बर्बरतापूर्ण कृत्य की जवाबी कार्रवाई के संबंध में पूछे गये सवालों का भारत के सेना प्रमुख रावत ने कोई सीधा जवाब नहीं दिया और कहा कि सशस्त्र बल पड़ोसी देश के इस प्रकार के कत्यों का प्रभावी जवाब देंगे। उन्होंने कहा, हम पहले से भविष्य की योजनाओं के बारे में चर्चा नहीं करते। हम क्रियान्वयन के बाद ब्यौरे साझा करते हैं। उन्होंने इसके आगे कोई ब्यौरा नहीं दिया।

बेकार नहीं जायेगी सैनिकों की कुर्बानियां
उन्होंने एक कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं के सवालों के जवाब में कहा, जब इस प्रकार का कृत्य होगा तो हम भी जवाबी कार्रवाई करते हैं। सेना के उप प्रमुख शरदचंद ने मंगलवार को कहा था कि सेना इस घातक कदम का अपनी पंसद के समय और स्थान पर जवाब देगी। रक्षा मंत्री अरुण जेटली भी कह चुके हैं कि इन दोनों सुरक्षाकर्मियों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा तथा भारतीय सुरक्षा बल पाकिस्तानी सैनिकों के इस अमानुषिक कृत्य का समुचित जवाब देंगे। जनरल रावत ने इस घटना में भारत की संभावित कार्रवाई के ब्यौरे साझा करने से इंकार कर दिया। कुछ दिनों पहले नियंत्रण रेखा के समीप पाकिस्तानी सैन्य कर्मियों ने हमारी सेना के एक नायब सूबेदार और बीएसएफ के हेड कांस्टेबल की जान लेकर उनका शव क्षत विक्षत कर दिया था। उन्होंने कहा कि इस घटना के बाद जम्मू कश्मीर में घुसपैठ रोधी तंत्र को और चौकन्ना कर दिया गया है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.