काबुल। तालिबानों के कहर एक बार फिर अफगानिस्‍तान थर्रा उठा है। उत्तरी अफगानिस्तान के शहर मजार ए शरीफ के नजदीक स्थित सैन्य ठिकाने पर तालिबान के हमले में 50 से ज्यादा अफगान सैनिक मारे गए हैं। अमेरिकी सेना के प्रवक्ता ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। हालांकि, अफगानिस्तान सेना ने आठ सैनिकों के मारे जाने और 11 सैनिकों के घायल होने की बात कही है। पीएम मोदी ने इस हमले की निंदा करते हुए कहा है कि हम मजार ए शरीफ पर हुए इस कायराना आतंकी हमले की कड़ी निंदा करते हैं। हमारी प्रार्थनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं।
शुक्रवार की नमाजअदा कर रहे थे सैनिक
अफगान सेना के प्रवक्ता नसरतुल्ला जमशीदी ने बताया कि कि यह हमला सैन्य ठिकाने में स्थित मस्जिद के नजदीक हुआ। उस वक्त सैनिक शुक्रवार की नमाज अदा कर रहे थे। उन्होंने बताया कि दो सैन्य वाहनों में तालिबान के छह हमलावर अफगान सेना की वर्दी में आए थे।
इन हमलावरों ने गेट पर तैनात प्रहरियों से कहा कि वाहनों में घायल सैनिक हैं और उन्हें तुरंत अंदर पहुंचाया जाना जरूरी है इसलिए वे तुरंत गेट खोल दें। जमशीदी ने बताया कि इसके बाद तालिबान हमलावरों ने रॉकेल प्रोपेल्ड ग्रेनेड्स और बंदूकों से अफगान सैनिकों पर हमला बोल दिया।
जवाबी कार्रवाई में एक हमलावर मारा गया
जवाबी कार्रवाई में एक हमलावर मारा गया जबकि पांच अन्य को गिरफ्तार कर लिया गया है। अफगानी सेना का यह अड्डा राष्ट्रीय सेना की 209वीं कॉर्प का मुख्यालय भी है, जिसके क्षेत्र में कुंदुज प्रांत समेत में पूरा उत्तरी अफगानिस्तान आता है। कुंदुज वहीं प्रांत है जहां जबर्दस्त लड़ाई जारी है। उधर, तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने दावा किया कि उनके लड़ाकों ने अफगान सैनिकों को भारी नुकसान पहुंचाया है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.