राजकोट| आखिरकार गुजरात ने आईपीएल में अपना खाता खोल ही लिया। मैन ऑफ द मैच एंड्रयू टाई की आखिरी ओवर में ली गई हैट्रिक के बाद बल्लेबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर गुजरात लायंस ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के 13वें मैच में शुक्रवार को राइजिंग पुणे सुपरजाएंट को सात विकेट से हराकर इस संस्करण की अपनी पहली जीत दर्ज की। पुणे ने मेजबान गुजरात के सामने 172 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसे उसने 18 ओवरों में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया।
पुणे के गेंदबाजों की खूब हुई धुनाई
लक्ष्य का पीछा करने उतरी गुजरात को ड्वायन स्मिथ (47) और ब्रैंडन मैक्कलम (49) ने शानदार शुरुआत दी। दोनों ने पहले ओवर से ही आक्रामक खेल खेला और पुणे के गेंदबाजों की जमकर धुनाई की। अपने चिर-परिचित अंदाज में खेलते हुए इस जोड़ी ने गुजरात को 5.2 ओवरों में ही 50 के आकंड़े तक पहुंचा दिया। यह जोड़ी यहीं नहीं रूकी और पुणे के हर गेंदबाज को इन्होंने अपना निशाना बनाया।
इस जोड़ी ने महज 8.5 ओवरों में 10.64 की औसत से 94 रन जोड़े। अपने अर्धशतक से तीन रन दूर स्मिथ को शार्दलु ठाकुर ने सीमारेखा के पास राहुल चहर के हाथों कैच कराया। स्मिथ ने 30 गेंदें खेलते हुए आठ और एक छक्का लगाया। आठ रन बाद मैक्कलम भी पवेलियन लौट गए। लेग स्पिनर चहर की गेंद को आगे बढ़कर मारने के प्रयास में वह चूक गए और महेंद्र सिंह धौनी ने उनकी गिल्लियां बिखेर दीं। एक रन से अर्धशतक से चूकने वाले मैक्कलम ने अपनी पारी में 32 गेंदें खेलीं और पांच चौके तथा तीन छक्के लगाए।
टाई की हैट्रिक ने पलट दिया पासा
दिनेश कार्तिक (3) कुछ खास नहीं कर पाए और इमरान ताहिर की गेंद पर बोल्ड हो गए। लगातार अंतराल पर विकेट गिरने के कारण गुजरात की टीम संकट में थी, लेकिन इसके बाद कप्तान सुरेश रैना (नाबाद 35) और एरॉन फिंच (नाबाद 33) ने मोर्चा संभाला और 5.1 ओवरों में 11.80 की औसत से 61 रनों की साझेदारी करते हुए टीम को जीत दिलाई।इससे पहले, पुणे की टीम का स्कोर 171 रनों से ज्यादा हो सकता था लेकिन, टाई ने आखिरी ओवर में हैट्रिक लेकर उसे और आगे जाने से रोक दिया। अंत के ओवरों में पुणे के अंकित शर्मा (25) और मनोज तिवारी (31) तेजी से रन बना रहे थे। टाई द्वारा फेंके गए आखिरी ओवर की पहली गेंद पर मैक्कलम ने अंकित का शानदार कैच पकड़ा। इसी ओवर की दूसरी गेंद पर टाई ने तिवारी को सीमा रेखा के पास ईशान किशन के हाथों कैच कराया और तीसरी गेंद पर शार्दुल ठाकुर को बोल्ड कर अपनी हैट्रिक पूरी की। यह टाई का आईपीएल में पहला मैच है।
पांच विकट लेने वाले पहले गेंदबाज बने टाई
टाई ने अपने कोटे के चार ओवरों में महज 17 रन दिए और पांच विकेट हासिल किए। वह इस आईपीएल में पांच विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज हैं।पहले बल्लेबाजी करने उतरी पुणे की शुरुआत खराब रही और मैच की तीसरी गेंद पर प्रवीण कुमार ने अंजिक्य रहाणे (0) को पवेलियन भेजा। गेंद रहाणे के बल्ले का बाहरी किनारा लेकर स्लिप में गई जहां रैना ने रहाणे का शानदार कैच लपका। हालांकि इसके बाद दूसरे सलामी बल्लेबाज राहुल त्रिपाठी (33) और कप्तान स्टीवन स्मिथ (43) ने मिलकर टीम का स्कोर 64 तक पहुंचाया। इन दोनों ने 5.2 ओवरों 12 की औसत से रन जोड़े। टाई ने फिंच के हाथों त्रिपाठी को कैच करा इस साझेदारी को तोड़ा। त्रिपाठी ने अपनी पारी में तीन चौके और दो छक्के लगाए।
महेंद्र सिंह धौनी का बल्‍ला फिर नहीं बोला
अर्धशतक की ओर बढ़ रहे पुणे के कप्तान स्मिथ की पारी का अंत ड्वायन स्मिथ ने किया। स्टीवन स्मिथ ने 28 गेंदों की पारी में छह चौके और एक छक्का लगाया। बेन स्टोक्स ने 18 गेंदों में 25 रनों का पारी खेली लेकिन, वह इसे और आगे नहीं ले जा पाए और टाई की गेंद पर बोल्ड हो गए। पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी एक बार फिर बल्ले की जंग को दूर नहीं पाए और आठ गेंद में सिर्फ पांच रन ही बना पाए। इसके बाद अंकित और तिवारी ने छठे विकेट के लिए 47 रनों की साझेदारी करते हुए टीम को 171 के स्कोर तक पहुंचाने में मदद की।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.