शनिवार को आयकर विभाग ने दावा किया कि कर्नाटक के कांग्रेस विधायक के पास कुल अघोषित आय 120 करोड़ रुपये की है। बता दें आयकर विभाग गुरुवार से ही विधायक एमटीबी नागराज के अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी कर रहा है। पिछले हफ्ते विधायक के ठिकानों पर छापेमारी में आयकर विभाग ने 1.10 करोड़ रुपये नकद और 10 किलो सोना जब्त किया था। विधायक पर पर कथित टैक्स चोरी का आरोप है। अधिकारियों ने बताया कि कांग्रेस विधायक के खिलाफ टैक्स चोरी की जांच के दौरान छापेमारी में 120 करोड़ से अधिक की राशि का खुलासा हुआ।

उन्होंने कहा कि विधायक ने व्यावसायिक संपत्ति, अस्पताल, घर, फर्जी तरीके से लोन के द्वारा इतनी बड़ी अघोषित संपत्ति जुटाई। छापेमारी में विधायक और उनके सहयोगियों के 560 एकड़ जमीन के 3500 से ज्यादा कागजात भी बरामद किए गए। अधिकारी विभिन्न स्वतंत्र भूस्वामियों से मिले 70 करोड़ रुपये के भुगतान की भी जांच कर रहे हैं जिन पर किसी पूंजीगत लाभ का भुगतान नहीं किया गया।

इससे पहले 23 जनवरी को आयकर विभाग ने कर्नाटक के एक मंत्री और प्रदेश महिला कांग्रेस प्रमुख के परिसरों पर छापेमारी कर 162 करोड़ रुपये से अधिक की अघोषित संपत्ति का पता लगाया था। विभाग ने इस दौरान 41 लाख रुपये की नकदी के अलावा सोने-चांदी के जेवरात भी जब्त किए थे।

आयकर अधिकारियों ने कहा था कि विभाग को पिछले हफ्ते गोकाक और बेलगाम में मंत्री रमेश एल जारखिहोली और महिला कांग्रेस प्रमुख लक्ष्मी आर हेब्बालकर के परिसरों पर छापेमारी के दौरान कई बेनामी संपत्तियों और बिना स्पष्टीकरण वाले निवेश के बारे में जानकारी मिली थी।

जारखिहोली का इस पर कहना था कि उन्होंने कुछ गलत नहीं किया है। उन्होंने आरोप लगाया था कि उनके परिसरों पर आयकर की छापेमारी के पीछे राजनीतिक षड़यंत्र है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.