AIADMK ने पार्टी की महासचिव शशिकला को विधायक दल का नया नेता चुना है। साथ ही ओ पनीरसेल्वम ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे की पेशकश की है। पनीरसेल्वम के इस्तीफे की पेशकश के साथ ही शशिकला के सीएम बनने का रास्ता साफ हो गया है।

खुद पनीरसेल्वम ने सीएम के लिए शशिकला के नाम की पेशकश की। पार्टी के तरफ से शशिकला के सीएम बनने को लेकर जानकारी दी गई है और कहा गया है कि पार्टी महासचिव अगला सीएम होंगीं।

विधायक दल की नेता चुनी जाने पर शशिकला ने कहा, “हमारी अम्मा के निधन के बाद पनीरसेल्वम ही वो शख्स हैं जिन्होंने सबसे पहले मुझे सीएम बनने के लिए जोर दिया।” इसके साथ शशिकला ने कहा कि तमिलनाडु की सरकार हमेशा ही जनता की भलाई के लिए काम करती है और अम्मा के दिखाए रास्ते और सिद्धांत पर चलेगी।

तमिलनाडु की तीसरी महिला सीएम होंगी
जयललिता के निधन के बाद शशिकला पार्टी की महासचिव चुनी गई थी। 31 दिसंबर 2016 को शशिकला पार्टी महासचिव चुनी गई थीं। तमिलनाडु में शशिकला को ही जलललिता का राजनीतिक वारिस माना जाता रहा है और अब वो राज्य की अगली सीएम बनने जा रही हैं। जानकी रामाचंद्रन और जयललिता के बाद शशिकला तीसरी महिला होंगी जो तमिलनाडु के सीएम की कुर्सी संभालेंगीं।

कौन हैं शशिलकला?
शशिकला नटराजन थेवर समुदाय से हैं। उनका प्रभाव जयललिता के करीबी लोगों में है और जयललिता के जीवन में वो परदे के पीछे से पार्टी का काम देखती रही थी और इसके लिए उन्हें जयललिता का आशिर्वाद प्राप्त था।

शशिकला जयललिता की सबसे करीबी मानी जाती रही हैं, एक जमाने में ये भी कहा जाता था कि जयललिता के हर फैसले के पीछे शशिकला का हाथ होता था। हालांकि, दोनों के रिश्तों में कई बार खटास भी देखी गई।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.