भारतीय जनता पार्टी ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा चुनावी सभाओं के दौरान स्मार्टफोन के नाम पर वोट मांगने पर आपत्ति जताई है।

प्रदेश प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने बताया कि चुनाव आयोग में भाजपा की शिकायत के बाद स्मार्टफोन के पंजीकरण पर रोक तो लगा दी गई लेकिन मुख्यमंत्री अपनी सभाओं में स्मार्टफोन की योजना में पंजीकृत मतदाताओं से वोट देने की अपील कर रहे है जो कि प्रलोभन की श्रेणी में आता है और आदर्श आचार संहिता का स्पष्ट उल्लंघन है। साथ ही केन्द्र सरकार द्वारा प्रदत राष्ट्रीय एम्बुलेस सेवा को समाजवादी नाम से जोडकर वोट मांगना भी अनुचित है।

त्रिपाठी ने कहा कि सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों से योजना में लाभ पाने के बदले वोट मांगना निहायत आपात्तिजनक है। चुनाव आयोग को शिकायत का संज्ञान लेकर प्रलोभन देने के लिए सामाजवादी पार्टी के खिलाफ कठोर कार्यवाही करनी चाहिए इस सम्बध में पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर और प्रशासनिक प्रमुख कुलदीप पति त्रिपाठी, के नेतृत्व में प्रतिनिधि मण्डल ने आयोग को लिखित शिकायत सौंपी।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.