काबिल का पहला शो शुरू हो चुका है और लोग ऋतिक रोशन की एक और दमदार फिल्म देखने के लिए सिनेमाघर का रुख कर रहे हैं। फिल्म को क्रिटिक्स ने काफी सराहा है और हर तरफ ऋतिक रोशन ही छाए हुए हैं। आखिर फिल्म में ऋतिक रोशन हैं तो ये तो होना ही था। ऋतिक रोशन और आमिर खान को दर्शक काफी ज्यादा पसंद भी कर रहे हैं। अभी तक तो दर्शक फिल्म को काफी पसंद कर रहे हैं।

रिव्यू
बदला अंधा होता है, यह इस फिल्म का सबसे मजबूत संदेश है। यह फिल्म हॉलीवुड फिल्म ‘ब्लाइंड फ्यूरी’ (1989) के रटगर हॉउर के लीड किरदार के अलावा कोरियन सुपरहिट फिल्म ब्रोकन (2014) से प्रेरित नज़र आ रही है। कुल मिलाकर संजय गुप्ता ने इसे बड़े ही असरदार और मनोरंजक तरीके से पेश किया है।

स्टोरी
दो नेत्रहीन कपल रोहन भटनागर (रितिक रोशन) और सुप्रिया शर्मा (यामी गौतम) की शादी होती है और वे एक-दूसरे का सहारा बन जाते हैं। दुर्भाग्य से उनकी इस अंधेरी दुनिया में हलचल तब मच जाती है जब सुप्रिया का रेप होता है और रोहन को समझ आता है कि पुलिस वाले उनके लिए कुछ करने वाले नहीं हैं।और इसके बाद कानून को अपने हाथ में लेने के सिवा रोहन के पास कोई और रास्ता नहीं बचता।

फिल्म की शुरुआत कुछ ऐसे होती है, जहां रोहन एक बेहतरीन डबिंग आर्टिस्ट है और सुप्रिया काफी अच्छा पियानो बजाती है। शारीरिक अक्षमता के बावजूद जिंदगी के प्रति दोनों का रवैया काफी पॉज़िटिव है। सिर्फ दो सीन में आप इनके प्यार को महसूस कर लेंगे। और जैसे ही आप उन्हें एक मॉल में एक-दूसरे से केवल दो मिनट के लिए अलग देखते हैं तो आप बेचैन हो जाते हैं। इनका मोन अमोर डांस देखकर बस सब जादू सा लगता है और बेहद खुशी होती है। लेकिन, जब बात आम जिंदगी और एक बॉलिवुड थ्रिलर की हो तो वास्तविक जिंदगी में ऐसे सॉन्ग और डांस यकीनन सच नहीं होते। जब एक गुंडा अमित शेलार (रोहित रॉय) और उसका साथी वसीम (सहीदुर रहमान) साथ मिलकर सुप्रिया का रेप करते हैं तो रोहन की दुनिया में और भी ज्यादा अंधेरा छा जाता है।

दरअसल रेपिस्ट अमित वहां के लोकल कॉर्पोरेटर माधवराव शेलार (रॉनित रॉय) का भाई है और इसी वजह से भ्रष्ट पुलिस ऑफिसर (नरेन्द्र झा और गिरीश कुलकर्णी) इस मामले की जांच-पड़ताल को सही तरीके से होने नहीं देते। जब उनकी करतूतों को सहना मुश्किल हो जाता है, तब रोहन उनसे बदला लेने के बारे में सोचता है। यहीं से फिल्म अलग राह मुड़ती है और आप सोच ही सकते हैं कि आगे क्या हो सकता है। चूहे-बिल्ली का यह खेल आपको रोमांचित करता है। जब भी रितिक अपना बदला लेने के लिए किसी को सताते और उसपर जुल्म करते हैं, तो आप दर्शक के तौर पर खुशी से सीटियां बजाते हैं।

शुरुआत शानदार
फिल्म शुरूआत से तो लोगों को काफी पसंद आ रही है। फिल्म शुरूआत से ही सबको काफी इमोशनल और अच्छी लग रही है।

ऋतिक की शानदार एक्टिंग
ऋतिक रोशन की शानदार एक्टिंग लोगों को काफी पसंद आ रही है। ऋतिक रोशन और यामी गौतम दोनों ही बहुत अच्छे हैं। ऋतिक रोशन की तारीफ फिल्म की शुरूआत से ही हो रही है। फिल्म दर्शकों को शुरूआत से ही बांधे हुए है। फिल्म में कई ऐसे भी मोमेंट्स आए जब दर्शक खुद को संभाल नहीं पाए और गला भर आया।

म्यूजिक
काबिल का म्यूजिक भी लोगों को काफी अच्छा लगा । फिल्म के गाने तो लोगों को पहले भी पसंद आए थे और सारा जमाना हसीनो का दिवाना पहले भी सबको काफी पसंद आया। दर्शकों का दर्शकों का एक्साइटमेंट देखने लायक है। पहले शो में भी दर्शकों की अच्छी खासी भीड़ है।

रोनित रॉय की हिट ‘वेलनगिरी’
रोनित रॉय की भी दर्शक तारीफ करते नहीं थक रहे। फिल्म देखते देखते दर्शक उनसे नफरत करने के मोड में जा चुके हैं और किसी एक्टर के लिए इससे बड़ा कॉम्पलिमेंट नहीं हो सकता।

क्यों देखें फिल्म
इस फिल्म का मुख्य आकर्षण रितिक का दमदार परफॉर्मेंस है। वह एक प्रेमी और एक फाइटर के रूप में शानदार दिख रहे हैं। मूवी रेटिंग में आधा स्टार पूरी फिल्म में रितिक के शानदार परफॉर्मेंस के लिए। यामी ने भी शानदार प्रदर्शन किया है। टेक्निकली भी फिल्म काफी बेहतरीन है।

बॉटम लाइन
रेटिंग – 4.5/5
सिनेमा टाइप – थ्रिलर
समय – 2 hours 19 minutes
निदेशक- संजय गुप्ता
कलाकार- रितिक रोशन, यामी गौतम, रॉनित रॉय, रोहित रॉय, नरेन्द्र झा

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.