याहू कंपनी का नाम अब बदलकर Altaba Inc. होने जा रहा है। अगर याहू की वेराइजन के साथ 4.8 अरब डॉलर की डील  हो जाती है तो कंपनी के बोर्ड का साइज भी आधा हो जाएगा। बता दें कि याहू अपनी डिजिटल सर्विसेस वेराइजन कम्‍युनिकेशन को बेचने जा रही है। इसके तहत ईमेल, वेबसाइट्स, मोबाइल ऐप्‍स और एडवर्टाइजिंग टूल्‍स वेराइजन को मिल जाएंगे।

एक अधिकारी के मुताबिक, नया नाम alternative and Alibaba का कॉम्बिनेशन है। याहू के 10 मेंबर वाले बोर्ड में अभी सीईओ मैरिसा मेयर समेत चार डायरेक्‍टर हैं। वेराइजन डील के बाद ये सभी बोर्ड से इस्‍तीफा दे देंगे।

कौन हैं याहू के नए चेयरमैन?
बदलाव के तहत याहू के डायरेक्‍टर एरिक ब्रांट कंपनी के चेयरमैन बनाए गए हैं। ब्रांट को मेनार्ड वेब की जगह अप्‍वाइंट किया गया है। वेब वेराइजन डील पूरी होने तक उसके चेयरमैन एमिरटस रहेंगे।

क्‍या है याहू-वेराइजन डील?
जुलाई 2016 में 4.5 अरब डॉलर (लगभग 32 हजार करोड़ रुपए) में याहू-वेराइजन डील पर सहमति बनी थी। डील के तहत वेराइजन को याहू के कोर इंटरनेट बिजनेस (ईमेल सर्विसेस, स्‍पोर्ट्स वर्टिकल्‍स और ऐप्स) को खरीदना था। स्‍टॉक एक्‍सचेंज को की गई अपनी फाइलिंग में याहू ने सोमवार को बताया क‍ि एक बार डील की प्रक्रिया पूरी होने के बाद कंपनी का नाम बदलकर Altaba Inc हो जाएगा। संभव है कि डील की प्रॉसेस मार्च के आखिर तक फाइनल हो जाएगी।

याहू के पास बचेंगे 15 फीसदी शेयर
इस डील के बाद याहू के पास दिग्‍गज चीनी कंपनी अलीबाबा के शेयर के अलावा कुछ नहीं बचेगा। मौजूदा समय में याहू के पास अलीबाबा के 15 फीसदी शेयर हैं। अलीबाबा मौजूदा समय में करीब 35 अरब डॉलर की कंपनी है।

कब हुई याहू की शुरुआत
याहू की स्थापना 1994 में हुई थी। इसका पूरा नाम यट एनदर हायार्किकली ऑफिशियस ऑरेकल है। 2000 में इसकी मार्केट कैप 5.63 लाख करोड़ रुपए तक पहुंच गई, जो अब तक इसका मैक्सिमम है। 2002 गूगल को 24,100 करोड़ रुपए में खरीदने का ऑफर मिला लेकिन गूगल ने मना कर दिया। माइक्रोसॉफ्ट ने 2008 में 2.23 लाख करोड़ रुपए में याहू को खरीदने का प्रस्ताव दिया, लेकिन याहू ने मना कर दिया। उसके बाद 2013 में ब्लॉगिंग साइट टम्बलर को 7, 000 करोड़ रुपए में याहू ने खरीदा। फिर 2015 याहू को 29, 000 करोड़ रुपए का भारी-भरकम घाटा हुआ। 2016 में वेराइजन 32, 000 करोड़ रुपए में याहू खरीदने के लिए तैयार हो गया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.