बेंगलुरु। नोटबंदी का विरोध करने वालों की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम कर खबर ली. पीएम मोदी ने विपक्ष को आड़े हाथ लेते हुए रविवार को कहा कि सरकार के कदम को ‘जनविरोधी’ बता रहे लोग उस भ्रष्टाचार और कालेधन के ‘राजनीतिक पुजारी’ हैं जो अर्थव्यवस्था, राजव्यवस्था और समाज को खोखला बना रहे हैं. मोदी ने यहां 14वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, “दुर्भाग्यपूर्ण है कि कालेधन के कुछ राजनीतिक पुजारी हमारे प्रयासों को जनविरोधी कह रहे हैं.” उन्होंने कहा कि सरकार ने कालेधन और भ्रष्टाचार से लड़ने की बड़ी जिम्मेदारी ली है. कालेधन और भ्रष्टाचार ने हमारी राजव्यवस्था, अर्थव्यवस्था, समाज और प्रशासन को धीरे-धीरे खोखला बना दिया है.”
हमने कालेधन के खिलाफ बड़ी लड़ाई लड़ी है
उन्होंने कहा, “आपने देखा होगा और सुना होगा कि हमने कालेधन के खिलाफ बड़ी लड़ाई लड़ी है. कालाधन और भ्रष्टाचार हमारी राजव्यवस्था, समाज और प्रशासन को धीरे-धीरे खोखला कर रहे हैं.” इस बार इस तीन दिवसीय आयोजन को अब तक का सबसे विशाल आयोजन कहा जा रहा है.
भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ सरकार के कदमों का समर्थन करने के लिए मोदी ने भारतीय मूल के लोगों का शुक्रिया अदा किया. देश के विकास में भारतवंशी समुदाय की भूमिका पर रोशनी डालते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने करीब 69 अरब डॉलर का निवेश करके भारतीय अर्थव्यवस्था में ‘अमूल्य योगदान’ दिया है.
एफडीआई मतलब फर्स्ट डवलप इंडिया
उन्होंने कहा, “मेरे लिए एफडीआई की दो परिभाषाएं हैं. एक है ‘फॉरिन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट’ (विदेशी प्रत्यक्ष निवेश) और दूसरी है ‘फर्स्ट डवलप इंडिया’ (पहले भारत का विकास).” उन्होंने कहा, “मैं पूरे विश्वास के साथ कह सकता हूं कि 21वीं सदी भारत की है.” समारोह के मुख्य अतिथि पुर्तगाल के भारतीय मूल के प्रधानमंत्री एंटोनियो कोस्टा थे. समारोह में कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया समेत कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों और केंद्रीय मंत्रियों ने शिरकत की.

1 टिप्पणी

  1. Cool blog! Is your theme custom made or did you download it from somewhere?
    A theme like yours with a few simple tweeks would really make my blog stand out.
    Please let me know where you got your design. With
    thanks

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.