nawaz-sharifनई दिल्ली। पाकिस्तान उच्चायोग में काम करने वाले अधिकारियों पर लगे जासूसी के आरोप के बाद पड़ोसी देश पाकिस्तान ने अपने 6 और अधिकारियों को वापस बुला लिया है। तो वहीं भारत ने भी पाकिस्तान स्थित अपने उच्चायोग के 8 अधिकारियों को वपास बुला लिया है। यह कदम तब उठाया गया जब दिल्‍ली क्राइम ब्रांच और खुफिया एजेंसियों ने पाकिस्तानी उच्चायोग के एक अधिकारी महमूद अख्तर को जासूसी मामले में हिरासत में लिया था।

अख्‍तर द्वारा जिनके नाम बताए गए थे उनमें से उनमें वाणिज्य सलाहकार सैयद फुर्रुख हबीब, प्रथम सचिव खादिम हसन, मुदस्सीर चीमा, शाहिद इकबाल शामिल हैं। पाक मीडिया में भारतीय अधिकारियों के नाम आने के बाद उनकी सुरक्षा को लेकर सवाल उठने लगे थे और इसी के चलते भारत सरकार ने अपने अधिकारियों को वापस बुला लिया है।

जानकारी के मुताबिक पाक उच्चायोग के 6 अधिकारी आज वाघा सीमा से होते हुए पाकिस्तान पहुंच गए हैं। कहा जा रहा है कि महमूद अख्तर ने जासूसी मामले में इन अधिकारियों के नाम लिए थे। गौरतलब है कि पाकिस्तान उच्चायोग में काम करने वाले महमूद अख्तर को पिछले हफ्ते ही भारत ने अवांछित करार कर दिया था जिसके बाद उसे पाकिस्तान लौटना पड़ा था।

कहा जा रहा है महमूद अख्तर पाकिस्तानी उच्चायोग से संचालित बड़े जासूसी रैकेट का हिस्सा था। पाकिस्तानी हाईकमीशन के वीजा विभाग में काम करने वाला महमूद अख्तर पहले आइएसआइ का अधिकारी रह चुका है। दिल्ली पुलिस ने महमूद अख्तर के अलावा दो भारतीयों सुभाष जांगीर और मौलाना रमजान को पिछले सप्ताह चिड़ियाघर से गिरफ्तार किया था। राजनयिक छूट प्राप्त होने की वजह से दिल्ली पुलिस ने महमूद अख्तर से 3 घंटे तक पूछताछ करने के बाद उसे रिहा कर दिया था।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.