New Delhi: Union Home Minister Rajnath Singh addresses the 110th Annual Session of the PHD Chamber and PHD Annual Awards for Excellence 2015 in New Delhi on Saturday. PTI Photo by Kamal Singh(PTI11_28_2015_000021A)नई दिल्ली। शनिवार रात दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में कुछ संदिग्ध आतंकवादी पुलिस चौकी पर तैनात पुलिसकर्मियों से बंदूकें छीनकर भाग निकले। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भी पाकिस्तान की तरफ से घुसपैठ का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। पाकिस्तान के भेजे आतंकी रोज कहीं न कहीं हमले कर रहे हैं। इन सभी हरकतों से तंग आकर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को कड़ी शब्द में चेतावनी देते हुए कहा है कि

अगर हमला हुआ तो गोलियां नहीं गिनेंगे। बॉर्डर की हिफाजत का जिम्मा सीमा सुरक्षा बल यानी बीएसएफ पर है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बॉर्डर की सुरक्षा को और अधिक मजबूत करने के लिए पूरे दो दिन राजस्थान बॉर्डर पर बिताए हैं। पाकिस्तान से लगी सीमा को इजरायल-फिलिस्तीन जैसी सीमा जैसा फौलाद बनाने के मिशन पर हैं

राजनाथ सिंह लेकिन राजनाथ सिंह को उससे पहले भी काफी कुछ करना होगा। मुनावाबो में बीएसएफ जवान से सीधी बात की तो बीएसएस के एक जवान ने बड़ी सादगी से अपनी दिक्कत सामने रख दी। दिक्कतों के बाद भी सीमा पर जवानों के हौंसले को देख राजनाथ सिंह को उन्हें सलाम करना पड़ा। उसी हौंसले की बदौलत राजनाथ सिंह ने

पाकिस्तान के आतंकी गैंग को कड़ी चेतावनी दी है। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद राजनाथ सिंह ने कह दिया कि हमला हुआ तो इस बार गोलियां नहीं गिनी जाएंगी। राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को कड़ा संदेश देते हुए साफ शब्दों में कहा कि भारत ने कभी किसी पर हमला नहीं किया और दूसरों की जमीन हड़पने का हमारा कोई इरादा भी नहीं है।

हमारी पंरपरा यह कहती है कि हम कभी पहले गोलीबारी नहीं करते है। लेकिन जब हम पर हमला हो जाए तो जवाब देते हुए हम गोलियां भी नहीं गिनते है। भारत वाकई गोलियां नहीं पाकिस्तान के आतंकियों की लाशें गिन रहा है। भारतीय सैनिक ने सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भी पाकिस्तान की हरकतें जारी हैं। बारामूला, नौगाम, शोपियां में हमले नाकाम हुए और हमलावर आतंकी लौटकर पाकिस्तान भी नहीं जा सके।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह के मिशन से पाकिस्तान भी डरा-सहमा सा नज़र आ रहा है। अगर सीमा पर ऐसी दीवारें खड़ी हो गईं कि पाकिस्तान की सेना, आईएसआई और उसके आतंकवादी तो बेरोजगारी ही हो जाएंगे। भारत के बॉर्डर एक्शन प्लान से पाकिस्तान को भी सांप सूंघा हुआ है। पाकिस्तान के विदेश सलाहकार सरताज अजीज ने कहा अगर लोगों की आवाजाही और व्यापारिक संबंध बरकरार रहा तो पाकिस्तान-भारत सीमा को सील कर देने में कोई बुराई नहीं होगी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.