deepa-malikनई दिल्ली। रियो पैरालिंपिक में शॉटपुट सिल्वर मेडलिस्ट दीपा मलिक हवाई सफर के दौरान एयरलाइन क्रू के खराब बर्ताव का शिकार हो गईं। दीपा ने इसकी शिकायत की है। क्रू के व्यवहार से खिन्न दीपा ने कहा कि व्हीलचेयर पैसेंजर्स के साथ कैसे पेश आना है, इस बारे में एयरलाइन स्टाफ को पता ही नहीं है। एक क्रू मेंबर ने मुझसे उस वक्त बेहद सख्त लहजे में बात की, जब मैं अपनी मां को फ्लाइट लेट होने की जानकारी फोन पर दे रही थी। इस मेंबर ने मुझे ‘स्वीटहार्ट चिल’ भी कहा। हालांकि, इस मुद्दे पर एयरलाइन ने दीपा से माफी मांग ली है।

घटना मंगलवार की है जब 46 वर्षीय दीपा मलिक विस्तारा की मुंबई-दिल्ली फ्लाइट UK-902 में ट्रेवल कर रही थीं। एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक, दीपा ने ऑन-बोर्ड शिकायत में लिखा कि व्हीलचेयर बेहद खराब ढंग से हैंडल की गई। क्रू मेंबर नहीं जानते थे कि कैसे सीट से केबिन चेयर तक शिफ्ट करना है। उस समय पूरा स्टाफ 10 मिनट तक खड़े होकर एक दूसरे को देखता रहा। उन्होंने कहा कि केबिन क्रू मेरी मदद करने को तैयार नहीं थे। क्योंकि वे इसके लिए ट्रेंड नहीं थे।
इस घटना से दुखी दीपा ने बाद में कुछ ट्वीट भी किए। उन्होंने ट्वीट कर अपील की कि एयरलाइन को दिव्यांग पैसेंजर्स के साथ गरिमा के साथ पेश आना चाहिए। एक ट्वीट में लिखा कि डी-बोर्डिंग के वक्त व्हीलचेयर पैसेंजर को खराब तरीके से हैंडल किया गया। सख्त और बदतमीज क्रू। खराब एक्सपीरियंस।
एक और ट्वीट में कहा कि उम्मीद है कि विस्तारा मेरी शिकायत पर ध्यान देगा और जवाब देगा। दिव्यांग पैसेंजर के साथ ज्यादा गरिमा से पेश आएगा।
दीपा की शिकायत के बाद विस्तारा ने माफी मांगी है। एयरलाइन ने कहा कि एक टीम के रूप में, हम दीपा से माफी मांगते हैं। हमने दीपा से बात की और हम उनके फीडबैक के लिए आभारी हैं। हम इस घटना की जांच करेंगे। हम इस मामले में सभी जरूरी एक्शन लेंगे। ताकि ऐसा वाकया फिर दोहराया न जा सके।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.