baramulla-attack_श्रीनगर। भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक के महज चार दिन बाद ही जम्मू-कश्मीर के बारामूला में रविवार रात बीएसएफ और आस-पास के सैन्य शिविरों पर आतंकी हमले कर दी। जिसमें बीएसफ का एक जवान शहीद हो गया। और एक अन्य घायल भी हो गया। कारवाई करने से दो आतंकियों के मारे जाने की खबरें आई थीं लेकिन अभी पूरी तरह से पुष्टि नहीं हुई है।

बाडर्र सेक्यूरिटी फोर्स (बीएसएफ) के कश्मिर के आईजी विकास चंद्रा ने बताया कि आतंकियों ने शिविर में घुसने की कोशिश की थी। लेकिन जवानों की जवाबी कार्रवाई करने से पहले ही भाग गए।

इस बीच खबर यह भी है कि गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल के साथ सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की है। वहीं केंद्रिय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर उच्च स्तरीय बैठक किए हैं। इस बैठक में तीनों सेनाओं के प्रमुख शामिल हैं। अधिकारियों ने बताया कि पास के बीएसएफ शिविर से 46 आरआर में दाखिल हुए आतंकवादियों ने अंधाधुंध गोलियां चलाईं और ग्रेनेड भी फेंके।

गोलीबारी में बीएसएफ के दो जवान घायल हो गए। उन्हें पास के अस्पताल से इलाज कराया गया, जहां उनमें से एक की मौत हो गई। श्रीनगर स्थित पंद्रहवीं कोर के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि बारामूला के जांबाजपोरा में आतंकवादियों ने सैन्य शिविर पर गोलियां चलायीं।

यहां से करीब 54 किलोमीटर दूर बारामूला के आसमान में सेना ने आतंकवादियों की स्थिति का पता लगाने के लिए रौशनी करने वाली फायरिंग की। ये आतंकवादी राष्ट्रीय राइफल्स की 46 बटालियन में घुसे थे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.