नाइजीरिया के दो शहरों दमतुरू और कदुना में तीन दिन में गुटीय झड़पों तथा उग्रवादियों और सरकारी सैनिकों के बीच गोलीबारी की घटनाओं में कम से कम 101 लोगों की मौत हो गई। इससे पहले रविवार को तीन गिरजाघरों पर आत्मघाती बम हमले किए गए थे।कदुना शहर में इसाइयों ने इस्लामी कट्टरपंथी गुट बोको हराम के संदिग्ध सदस्यों द्वारा किए गए बम हमलों के बदले में मस्जिद जलाई और मुसलमानों को कथित तौर पर मारा।नाइजीरिया के उत्तरी राज्य योबे के दमतुरू शहर में सैनिकों तथा उग्रवादियों के बीच गोलीबारी में छह सुरक्षाकर्मियों सहित 40 से अधिक व्यक्तियों की मौत हो गई। राज्य पुलिस के प्रवक्ता पैट्रिक एजबनाइवे ने फोन पर प्रेस ट्रस्ट को बताया कि मृतकों में से 34 तो बोको हराम के सदस्य थे।एक अन्य सूत्र ने दावा किया कि दमतुरू के सैनी अबाचा अस्पताल में आठ पुलिस कर्मियों और तीन सैनिकों के शव लाए गए। नाइजीरिया के दो शहरों दमतुरू और कदुना में तीन दिन में गुटीय झड़पों तथा आतंकियों और सरकारी सैनिकों के बीच गोलीबारी की घटनाओं में कम से कम 101 लोगों की मौत हो गई। इससे पहले रविवार को तीन गिरजाघरों पर आत्मघाती बम हमले किए गए थे।

कदुना शहर में इसाइयों ने इस्लामी कट्टरपंथी गुट बोको हराम के संदिग्ध सदस्यों द्वारा किए गए बम हमलों के बदले में मस्जिद जलाई और मुसलमानों को कथित तौर पर मारा। नाइजीरिया के उत्तरी राज्य योबे के दमतुरू शहर में सैनिकों तथा आतंकवादियों के बीच गोलीबारी में छह सुरक्षाकर्मियों सहित 40 से अधिक लोगों की मौत हो गई। राज्य पुलिस के प्रवक्ता पैट्रिक एजबनाइवे ने बताया कि मृतकों में से 34 आतंकी संगठन बोको हराम के सदस्य थे।

एक अन्य सूत्र ने दावा किया कि दमतुरू के सैनी अबाचा अस्पताल में आठ पुलिसकर्मियों और तीन सैनिकों के शव लाए गए। योबे और कदुना के प्रशासन ने फिर से जानलेवा टकराव टालने के लिए 24 घंटे के कर्फ्यू की घोषणा की है। घरों से बाहर न निकल पाने की वजह से नागरिकों को खाद्यान्न और पानी की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है।
कदुना में आत्मघाती हमले के बाद हुई हिंसा में 61 से अधिक लोग मारे गए और कई लोग घायल हो गए। कई लोग छिपकर समीपवर्ती एटीएम काउंटरों तक गए, लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगी, क्योंकि मशीनों से नकदी नहीं निकली। इस बीच, डिफेन्स स्टाफ एयर मार्शल ओलुसी पेतुरिन सहित देश के सर्वोच्च रक्षा प्रमुख हिंसाग्रस्त इलाकों की ओर रवाना हो गए हैं। उन्होंने नागरिकों को आश्वासन दिया है कि हालात जल्द ही सामान्य हो जाएंगे।
माइदुगुरी शहर में आतंकियों के ठिकाने हैं और इस शहर में कानून-व्यवस्था बहाल करने के लिए सेना की एक प्रभारी यूनिट संयुक्त कार्य बल ने नागरिकों को इस्लामी आतंकवादी समूह बोको हराम की आत्मघाती हमले करने की साजिश के बारे में चेतावनी दी है। कट्टरपंथी गुट बोको हराम ने अफ्रीका के इस सबसे बड़े तेल उत्पादक देश में इस्लामी सरकार बनाने और शरीया कानून लागू करने के लिए युद्ध छेड़ रखा है।
नाइजीरिया में बोको हराम की हिंसा लगातार बढ़ रही है। उत्तरी शहर कानो में 20 जनवरी को कई बम हमलों और गोलीबारी की घटनाओं में कम से कम 185 लोग मारे गए थे। अबुजा स्थित संयुक्त राष्ट्र के मुख्यालय में पिछले साल बोको हराम के आत्मघाती हमले में 26 लोगों की मौत हो गई थी। करीब 15 करोड़ की आबादी वाले नाइजीरिया में मुस्लिम और ईसाई दोनों रहते हैं। उत्तरी क्षेत्र में जहां मुसलमानों की आबादी अधिक है, वहीं ईसाई मुख्य रूप से दक्षिण में बसे हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.