140821085353_stomach_cancer

मथुरा। वैज्ञानिक शोध में प्रमाणित हो चुका है कि विदेशी गायों का दूध पीने से कैंसर का खतरा होता है। इनमें मिलने वाला प्रोटीन ए-1 कैंसर जनित होता है। वहीं, हमारी देसी गायों के दूध में ए-2 प्रोटीन होता है, जो कैंसर की शरीर में रोकथाम करता है। यह जानकारी पंडित दीनदयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा विवि एवं गो अनुसंधान केंद्र के कुलपति प्रो. केएमएल पाठक ने दी।

वह यहां एकात्मानव दर्शन के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्मशती महोत्सव-2016 के तहत मंगलवार को पशुपालन विभाग और पशुधन विकास परिषद के सहयोग से स्वस्थ गौ प्रतियोगिता एवं पशु चिकित्सा शिविर में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। उन्होंने देसी और विदेशी गायों की नस्लों के संबंध में कई अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां लोगों के साथ साझा की। उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा देसी गायों को बचाने के लिए गोकुल ग्राम योजना के बारे में भी जानकारी दी। शिविर में आसपास के गांवों के पशुपालक देसी, दोगली, जरसी, धारीवाल, शाहीवाल व हरियाणी आदि नस्लों की 237 से अधिक गायों को लेकर पहुंचे थे। इस मौके पर प्रो. पाठक ने कहा कि ब्रज में गाय और गोपाल 5 हजार वर्षों से जाने जाते हैं। भारत में गाय को घर-घर में माता की तरह पूजा जाता है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.