लखनऊ- समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता रामपुर से सांसद आजम खान की मुश्किलें कम होने की नाम नहीं ले रही हैं। आजम के घर रेवेन्यू इंस्पेक्टर ने नोटिस चिपकाई है। आजम के घर यह 5वां नोटिस है।   नोटिस में लिखा है, ‘आजम खान की पत्नी तजीम फातिमा, उनके बेटे अब्दुल्ला आजम खान और अदीब आजम खान पर किसानों की जमीन जबरदस्ती जौहर विश्वविद्यालय में शामिल करने पर मुकदमे दर्ज हुए हैं।

आजम खान मौलाना मोहम्मद अली जौहर ट्रस्ट के सचिव और सदस्य हैं इसलिए प्रशासन ने कहा है कि तीन दिन के अंदर इस मुद्दे पर अपने बयान दर्ज कराइये। पहली नोटिस रामपुर के एसएसपी ने चिपकाई थी जिसमें आजम खान पर आरोप था कि वह अपनी सरकारी सुरक्षा छोड़कर कई जगह आते हैं, उनकी जान को खतरा है इसलिए इससे बाज आएं।

दूसरा नोटिस अदालत का एक समन था जो आजम खान के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने पर दर्ज एक केस से संबंधित था और अब तीन नोटिस और चस्पा किए गए हैं। आजम खान लोकसभा चुनाव में अपने आपत्तिजनक भाषण को लेकर खूब चर्चे में आए थे। जौहर विश्वविद्यालय में जमीन कब्जे के मामले में पिछले हफ्ते पुलिस ने आजम खान की बहन को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की थी। उनकी बहन ट्रस्ट में कोषाध्यक्ष थीं।

योगी सरकार ने आजम खान के ऊपर 80 से ज्यादा मुकदमे दर्ज करा दिए हैं। इन मुकदमों में भड़काऊ भाषण देने, जमीन कब्जा करने, किताब चोरी, बिजली चोर और यहां तक कि भैंस चोरी की भी मुकदमे हैं। आजम खान की मुश्किलें लगातार बढ़ती चली जा रही है। आजम खान पर आरोप है कि उन्होंने किताबों की चोरी किया है जिसे आजम खान के कबूल भी किया है। योगी सरकार ने उन्हें माफिया भी घोषित कर दिया है।

इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश  यादव ने रामपुर जाने का कार्यक्रम रद्द कर दिया है. उनका कहना है कि रामपुर के डीएम ने सरकार के दबाव में आकर उन्हें रामपुर नहीं आने देना चाहते हैं। पता चला है कि डीएम रिटायर होने वाले हैं और वह एक्सटेंशन पाना चाहते हैं।

रिपोर्ट – न्यूज नेटवर्क 24

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.