पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के अमेरिका दौरे से चंद दिनों पहले प्रतिबंधित संगठन जमात-उल-दावा (जेयूडी) प्रमुख और मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद समेत संगठन के 12 अन्य नेताओं के खिलाफ आतंकवाद को धन मुहैया कराने और धन शोधन के लगभग दो दर्जन मामले दर्ज किए गए हैं। हाफिज सईद पर पाकिस्तान की ओर से कार्रवाई की खबरों पर भारत ने प्रतिक्रिया दी है। पाकिस्तान सरकार द्वारा आतंकी हाफिज सईद के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने और कार्रवाई की बात को भारत सरकार ने महज दिखावा करार दिया है। विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को कहा कि पाकिस्तान आतंकवादी समूहों के खिलाफ अपने ”दिखावटी कदमों से अंतरराष्ट्रीय समुदाय की आंखों को धूल झोंकने का प्रयास कर रहा है।

टेरर फंडिंग मामले में जमात उद दावा के प्रमुख आतंकी हाफिज सईद के खिलाफ मुकदमे पर भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा हमे आतंकवादी समूहों के खिलाफ पाकिस्तान के दिखावटी कदमों से झांसे में नहीं आना चाहिए। विदेश मंत्रालय ने कहा कि आतंकवाद और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकता इसलिए पाकिस्तान को जल्द हाफिज सईद को भारत को सौंप देना चाहिए। रवीश कुमार ने कहा कि दाऊद इब्राहिम पाकिस्तान में ही मौजूद है और उसकी लोकेशन अब रहस्य नहीं है। हम फिर से पाकिस्तान को ऐसे लोगों की एक सूची सौंप रहे हैं जो उनके देश में हैं। हम लगातार कहते रहे हैं कि उसे (दाऊद) को भारत के हवाले कर दिया जाना चाहिए। मुंबई धमाके में उसकी संलिप्तता सबके सामने स्पष्ट है।

प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि पाकिस्तान आतंकी समूहों और आतंकवादियों पर कार्रवाई को लेकर कितना गंभीर है, इसका फैसला सत्यापनीय, विश्वसनीय और अपरिवर्तनीय कार्रवाई को प्रदर्शित करने की उनकी क्षमता के आधार पर किया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान आतंक के खिलाफ कार्रवाई का दावा करता है, मगर जब हम ऐसे लोगों पर कार्रवाई करने को कहते हैं, जो साफ तौर पर आतंकी गतिविधियों में शामिल हैं तो वह मुकर जाता है। वहीं दूसरी तरफ अंतरराष्ट्रीय समुदाय के सामने ऐसे दिखावा करता है जैसे वह आतंकवाद के खिलाफ सच में कार्रवाई कर रहा हो।

भारत ने कहा कि वह आतंक से मुक्त वातावरण में एक सामान्य संबंध चाहता है और आधे-अधूरे उपायों के आधार पर नहीं, जो वे कभी-कभी अंतरराष्ट्रीय समुदाय को धोखा देने के लिए वे करते रहते हैं। बता दें कि भारतीय विदेश मंत्रालय की ओर से बयान उस रिपोर्ट पर आया है, जिसमें कहा जा रहा है कि पाकिस्तान ने हाफिज सईद और उसके 12 सहयोगियों के खिलाफ टेरर फंडिंग मामले में मुकदमा दर्ज किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.